आखिर 2 साल तक डर्टी टच करने वाले कोचिंग संचालक और रेप करने वाले पडौसी पर क्यों मेहरबान है पुलिस?

शिवपुरी। अभी हाल ही में जिले के कोलारस अनुविभाग के लुकवासा चौकी क्षेत्र में एक नाबालिग किशोरी के साथ कोचिंग में डर्टी टच और पडौसी द्वारा नाबालिग किशोरी के साथ रेप के मामले में पुलिस आखिर इन हेवानों पर मेहरबान क्यों है। इस मामले में लुकवासा पुलिस पर संदेह की स्थिति निर्मित हो रही है। कि आखिर मामला दर्ज हो जाने के बाद भी आज दिनांक तक पुलिस उक्त आरोपीयों को हिरासत में क्यों नहीं ले पाई है। विदित हो कि बीते पांच दिन पहले लुकवासा की एक किशोरी ने चाईल्ड हेल्प लाईन पर शिकायत दर्ज कराई कि उसके पडौस में रहने बाला एक शादीशुदा युवक गिर्राज रघुवंशी ने रेप और उसकी कोचिंग के टीचर मुकेश शर्मा ने किशोरी के लगातार दो साल तक अशलील हरकत की। इस बात की शिकायत के बाद पुलिस ने चाईल्ड हेप्ललाईन के जरिए आरोपीयों पर मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया था। बताया गया है मामले की जांच के दौरान पुलिस थाने में उक्त आरोपी को चौकी में बुलाया था। जिसे पूछताछ के बाद पुलिस ने छोड़ दिया। 

वही बताया यह भी गया है कि इस मामले में एफआईआर होने के दूसरे दिन सुबह 9 बजे तक आरोपी शिक्षक चौकी से महज कुछ कदम की दूरी पर कोचिंग पढ़ाता रहा। परंतु किसी भी पुलिस बाले ने उसे हिरासत में लेने का प्रयास नहीं किया। पुलिस उक्त आरोपीयों पर दिखा रही नरमी समझ से परें है। कि आखिर क्या कारण है कि पुलिस इन आरोपीयों पर पुलिस इतनी मेहरवान क्यों है। 

इनका कहना है-
पुलिस इस मामले में आरोपीयों की तलाश कर रही है। अब पुलिस अगर मामले में लापरवाही बरत रही है तो में दिखबाता हूं। यह सूचना मुझे भी मिली थी कि आरोपी शिक्षक एफआईआर होने के बाद भी पढ़ा रहा था। में इस बात की जानकारी निकलवा रहा हूं अगर ऐसा हुआ होगा तो फिर संबंधित के खिलाफ कार्यवाही करूंगा। 
सुजीत भदौदिया,एसडीओपी कोलारस। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics