ads

Shivpuri Samachar

Bhopal Samachar

shivpurisamachar.com

ads

कमलनाथ के परिवार की कंपनी के साथ शिवराज सरकार का हुआ है गैर कानूनी समझौता: पीयूष शर्मा

शिवपुरी। मप्र के अनूपपुर में बन रहे एमबी पॉवर लिमिटेड कंपनी की परियोजना के संबंध में सामने आए तथ्यों से साफ है कि इस परियोजना के संबंध में शिवराज सरकार द्वारा गैरकानूनी समझौता किया गया, जिसके कारण गत तीन वर्षों में मध्य प्रदेश की जनता को 585 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ और तो और चौंकाने वाला तथ्य यह है कि इस कंपनी का संबंध कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के परिवार से रहा है और शायद यही कारण है कि कमलनाथ ने सन 2011 में कंपनी बनने के बाद पिछले 7 साल में कभी भी इस गैरकानूनी समझौते के बारे में आवाज नहीं उठाई है। 

इससे साफ होता है कि प्रदेश में बिजली की हो रही लूट में भाजपा और कांग्रेस साझीदार हैं। उक्त बात एक प्रेसवार्ता के माध्यम से कही आम आदमी पार्टी के जिला संयोजक एड.पीयूष शर्मा ने जिन्होनें आम आदमी पार्टी के द्वारा कांग्रेस के नवनियुक्त अध्यक्ष कमलनाथ और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के संबंधों के कारण प्रदेश की जनता को हो रहे नुकसान पर बड़ा खुलासा किया है। ऐसे में आप पार्टी ने कमलनाथ से संबंधित बिजली कंपनी के साथ किए गए गैरकानूनी समझौते के हवाले से प्रदेश सरकार पर बड़ा हमला बोला। इस प्रेसवार्ता में आप पार्टी के सचिव जी.के.सक्सैना, संगठन प्रभारी विपिन शिवहरे, अब्दुल आरिफ, सतीश खटीक भी मौजूद रहे। 

कैसे हुई जनता के पैसे की लूट
आप पार्टी जिला संयोजक एड.पीयूष शर्मा, सचिव जीके सक्सैना व संगठन प्रभारी विपिन शिवहरे ने प्रेसवार्ता में खुलासा करते हुए संयुक्त रूप से बताया कि एमबी पॉवर लिमिटेड कंपनी से राज्य सरकार का 5 जनवरी 2011 में समझौता हुआ। केंद्र सरकार की 6 जनवरी 2006 की टैरिफ पॉलिसी के अनुसार कोई भी समझौता केवल प्रतिस्पर्धात्मक निविदा के माध्यम से ही हो सकता था। परंतु राज्य सरकार ने इस नियम का खुला उल्लंघन करते हुए एमबी पॉवर लिमिटेड के साथ सीधा समझौता किया। 

दूसरा गंभीर मुद्दा यह है कि 5 जनवरी 2011 को समझौता करने वाले मुख्य अभियंता श्री गजरा मेहता उक्त तिथि को उस पद पर पदस्थ ही नहीं थे। दस्तावेजों से साफ है कि उनकी उक्त पद पर पदस्थापना 31 जनवरी 2011 को हुई है। अतरू निश्चित रूप से यह समझौता गैरकानूनी था और इसके कारण 2015 से 2018 के बीच इस परियोजना की बिजली महंगी होने के कारण मध्य प्रदेश की जनता को 584 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। 

आप पार्टी ने कहा कि उपरोक्त आंकड़ों से स्पष्ट है कि जबकि एनटीपीसी से हमें औसतन 3.20 रुपए प्रति यूनिट बिजली मिल सकती थी। हमने एमबी पॉवर से महंगी बिजली खरीदकर प्रदेश की जनता का 585 करोड़ का नुकसान कियाए जो कि उससे महंगी बिजली के रूप में वसूला गया। 

कैसे है कमलनाथ से संबंध
आप पार्टी ने कमलनाथ के संबंधों को इस प्रकार बताया कि एमबी पॉवर कंपनी, मोजरबियर कंपनी द्वारा विशेष रूप से बनाई गई कंपनी है। मोजरबियर कंपनी में श्री कमलनाथ के जीजा दीपक पुरी चैयरमैन हैं और उनकी बहन नीता पुरी और उनके भांजे रातुल पुरी भी कंपनी में शामिल हैं। साथ ही कमलनाथ जी के भांजे रातुल पुरी एमबी पॉवर के डॉयरेक्टर हैं। मोजरवियर कंपनी में कमलनाथ जी खुद भी शेयरधारक हैं। कमलनाथ जी के चुनाव आयोग में सन 2014 दिए गए शपथ पत्र के अनुसार कंपनी में उनके 6450 शेयर हैं। अतरू स्पष्ट रूप है कि कमलनाथ जी के परिवार का एमबी पॉवर से सीधा संबंध है और शायद यही कारण है कि श्री कमलनाथ ने पिछले 7 साल में कभी इस गैरकानूनी और प्रदेश की जनता को लूटने वाले समझौते का विरोध नहीं किया। 
Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 Comments: