कलयुगी पुत्रों ने 80 वर्षीय बुजुर्ग पिता को घर से निकाला, मामला दर्ज

शिवपुरी। शायद कोई माँ बाप ही होंगे जिन्होंने सोचा होगा हमारे बुढ़ापे की लाठी कहे जाने वाले पुत्र जिनके लालन पालन में अपना सारा जीवन लगा दिया। उन्ही बेटो से ऐसी आशा कभी शायद ही किसी बूढ़े पिता ने की हो जो अपने पिता को घर से बाहर निकाल कर दो वक्त की रोटी के लिए मोहताज कर दे। ऐसी ही घटना हुई जिले के बदरवास कस्बे में हुई। जहां बुढापे के सहारे तीन पुत्रों ने अपने ही पिता को घर से निकाल दिया। मामला बदरवास थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम अटरूनी का है। यहां रहने वाले 80 वर्षीय वृद्ध ने पुत्रों पर भरण-पोषण का केस दर्ज करवाया है। पुलिस को शिकायत में वृद्ध ने बताया कि उसके तीन पुत्र हैं और तीनों ने उसे घर से निकाल दिया साथ ही खाने-पीने को नहीं देते हैं। कहने पर मारपीट कर घर से निकाल दिया।

अरूनी निवासी खच्चू पुत्र ग्यारसी कुशवाह उम्र 80 वर्ष ने बुधवार को थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई कि विगत पांच माह से उसके पुत्र सीताराम, राजेश और श्रीलाल उसको खाना नहीं देते और न ही उसे ओढने बिछाने को कपडे देते हैं, साथ ही उसका कोई ख्याल नहीं रखते हैं।
वृद्ध की रिपोर्ट पर से पुलिस ने तीनों पुत्रों के खिलाफ अभिभावक एवं वरिष्ठ नागरिक देखभाल एवं कल्याण अधिनियम के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना प्रारंभ कर दी है। थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम अटरूनी में रहने वाले 80 वर्षीय वृद्ध ने पुत्रों पर भरण-पोषण का केस दर्ज करवाया है।

पुलिस को शिकायत में वृद्ध ने बताया कि उसके तीन पुत्र हैं और तीनों ने उसे घर से निकाल दिया साथ ही खाने-पीने को नहीं देते हैं। कहने पर मारपीट कर घर से निकाल दिया। अरूनी निवासी खच्चू पुत्र ग्यारसी कुशवाह उम्र 80 वर्ष ने बुधवार को थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई कि विगत पांच माह से उसके पुत्र सीताराम, राजेश और श्रीलाल उसको खाना नहीं देते और न ही उसे ओढने बिछाने को कपडे देते हैं, साथ ही उसका कोई ख्याल नहीं रखते हैं। इस मामले की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी कलयुगी पुत्रों पर मामला दर्ज कर लिया है। 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया