कथित भारत बंद के ऐलान से पुलिस और प्रशासन अलर्ट, सोशल मीडिया पर पुलिस की पैनी नजर, हर हालात से निपटने तैयार है प्रशासन

शिवपुरी। सिर्फ और सिर्फ सोशल मीडिया पर चल रही कथित भारत बंद के ऐलान के चलते जिला प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है। अभी तक न तो किसी संघटन ने रैली और बंद की अनुमति ली है। और न ही बंद की कोई सूूचना पुलिस को दी गई है। परंतु सोशल मीडिया पर चल रही बंद की टिप्पणीयों को लेकर पुलिस-प्रशासन बंद के अलर्ट से पूरी तरह अलर्ट हो गया है। आज कलेक्टर और एसपी ने मीडिया को बुलाकर कथित बंद के ऐलान के चलते शहर भर के लोगों से शांति रखने की अपील की है। 

शिवपुरी कलेक्टर तरूण राठी ने मीडिया को बताया कि अभी तक किसी भी संगठन ने बंद की अनुमति नहीं ली है। फिर भी प्रशासन सोशल मीडिया की सक्रियता के हिसाब इस बंद से निपटने के लिए तैयार है। शहर में धारा 144 लागू कर दी गई है। कल जिले भर के सभी शासकीय,अशासकीय स्कूल, कॉलेज की छुट्टी की घोषणा कर दी है। इस छुट्टी के साथ ही कॉचिंग संचालकों को भी संस्थान की छुट्टी रखने के निर्देश जारी किए है। 

विदित हो कि अनुसूचित जाति-जनजाति एक्ट में बदलाव के सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर दो अप्रैल को हुए भारत बंद के बाद अब 10 अप्रैल को विभिन्न संगठनों के बंद को लेकर पुलिस और जिला प्रशासन ने हाईअलर्ट जारी किया है। इसके लिए जिला मुख्यालय पर जिला सहित बाहर से  पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। वहीं जिला प्रशासन द्वारा शांति समिति की बैठक में किसी भी तरह के धरना प्रदर्शन रैली की अनुमति देने पर भी रोक लगा दी है। 

पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पांडे और कलेक्टर तरूण कुमार राठी ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। वहीं कलेक्टर तरूण कुमार राठी ने छात्र छात्राओं के आवागमन में असुविधा एवं सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए स्कूल और कॉलेजों को बंद रखने का आदेश दिया है। साथ ही सोशल साइड पर भी पुलिस के एक विशेष दल की पैनी निगाह बनी हुई है।

जानकारी के मुताबिक10 अप्रैल के प्रचारित भारत बंद को लेकर शिवपुरी में भी हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। जिसमें बाहर से पुलिस बल भी शिवपुरी में तैनात हो गया है। साथ ही वज्र वाहन और अन्य सुरक्षा उपकरणों की भी व्यवस्था कर ली गई है। कलेक्टर द्वारा हाल ही में जिले में सोशल साइड पर धारा 144 लागू की गई थी। जिसे 4 जून तक प्रभावी बनाया गया है। जिस पर पुलिस की विशेष नजर है।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics