हम हार भी गए तब भी वादे निभाएंगे: जितेन्द्र जैन गोटू

मतदान समाप्‍त हो गया है। आपका फैसला सुरक्षित है और मतगणना के बाद इसका खुलासा होगा। मैं उन सभी मतदाताओं का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्‍होंने मेरे हक में मतदान किया। उन्‍हें भी जिन्‍होंने दूसरे उम्‍मीदवारों के लिए मतदान किया। मतभिन्नता ही लोकतंत्र की बुनियाद है। सबसे अच्‍छी बात यह है कि इस विधानसभा उपचुनाव में आपने पूरे उत्‍साह से भागीदारी की और यह इस बात का गवाह है कि लोकतंत्र की जड़ें धीरे -धीरे मजबूत हो रही हैं।

मान्‍यवर, आपने अपनी भूमिका का निर्वाह बड़े ही अच्‍छे ढंग से किया। मैं आपके जज्‍बे को सलाम करता हूं। अब गेंद हमारे पाले में है। उन सबके पाले में है जिन्‍होंने आपके लिए कुछ कर दिखाने का वायदा किया है। मैं भी उनमें शामिल हूं। ऐसा नहीं है कि आपके लिए कुछ करने की जिम्‍मेवारी केवल उस उम्‍मीदवार पर है, जो मतगणना के बाद विजयी घोषित किया जाएगा। उन सबकी है, जिन्‍होंने चुनाव प्रचार के दौरान आपसे कई वायदे किये हैं। मैं आपसे वायदा करता हूं कि इस मतदान का नतीजा कुछ भी हो, मैं आपके हित में सक्रियता से काम करता रहूंगा। आपके बीच ही रहूंगा। आपने अपना काम कर दिया। अब अपने वायदे पर अमल करने की बारी मेरी है, हम सब उम्‍मीदवारों की है। यदि जीता तो शायद बेहतर ढंग से काम कर पाऊंगा। पर, हार गया तो भी मेरे प्रयास में कोई कमी नहीं आएगी। आपसे मेरा यह वायदा है।

मैं उन सभी मतदाताओं का हृदय से शुक्रगुजार हूं जिन्‍होंने न केवल मेरे लिए मतदान किया बल्कि मेरी क्षमता पर भरोसा कर जाने - अनजाने मेरा प्रचार भी किया। कई मतदाताओं से मैं सीधे तौर पर नहीं मिल सका, पर उन्‍होंने मुझ पर भरोसा जताया है। मैं अपनी सभी त्रुटियों के लिए आप सबसे क्षमा मांगता हूं और यह वादा करता हूं कि मैं आपके भरोसे को तोडूंगा नहीं।
आप सभी का ह्रदय से बहुत बहुत आभार एवं धन्यवाद।।
Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------

analytics