Ad Code

गुना लोकसभा सीट से ही चुनाव लड़ेंगे सांसद सिंधिया: परिवहन मंत्री राजपूत | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। यूं तो शिवपुरी- गुना लोकसभा क्षेत्र से भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों ने अपने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की जिससे दोनों ही पार्टी के कार्यकर्ताओं में भ्रम की स्थिति बनी हुई है लेकिन यह भ्रम की स्थिति कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में ज्यादा देखने को मिल रही हैं जिसका कारण यह भी है कि पूर्व के चुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशियों की घोषित होने वाली पहली सूची में गुना-संसदीय क्षेत्र से चुनाव लडऩे वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम घोषित होता था।

वह नाम कई सूची जारी होने के बाद भी घोषित नहीं हो सका। कार्यकर्ताओं की में फैली भ्रम की स्थिति को दूर करने के लिए आज मध्य प्रदेश सरकार के परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने अघोषित रूप से गुना संसदीय क्षेत्र से ही चुनाव लडऩे की बात कहते हुए कहा कि आने वाली सूची में सिंधिया जी का नाम घोषित हो जाएगा। चर्चा के दौरान भाजपा पर गंभीर आरोप लगाने वाले परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत मुख्यमंत्री के ओएसडी के घर से लोकायुक्त द्वारा पकड़े गए करोड़ों रूपए के सवाल के जवाब पर बगलें झांकते स्पष्ट जवाब देने से बचते रहे। 

स्थानीय टूरिस्ट विलेज में आयोजित पत्रकार वर्ता में परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ेगें। यह तय हैं। कार्यकर्ता किसी भ्रम की स्थिति में न रहें क्योंकि सांसद सिंधिया ने क्षेत्र में कई विकास के कार्य किए हैं। और यहां की जनता उन्हें बेहद पसंद करती हैं। इसीलिए वह गुना-शिवपुरी संसदीय सीट को छोड़ कर और कहीं चुनाव लडऩे नहीं जाएंगे। 

श्री राजपूत ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान भाजपा पर कई तरह के आरोप लगाए लेकिन वह प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आने के बाद जिले में फैले भ्रष्टाचार, लूट खसोट, सहित परिवहन विभाग में दलाली प्रथा और अवैध रेत उत्खनन, तहसीलों राजस्व बसूली के नाम पर चल रहे गोरख धंधे के सवालों के जवाब पर स्पष्ट जवाब न देते हुए बचाव की मुद्रा में देखे गए। उन्होंने कहा कि शिकायत आने पर इन अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। भोपाल में मुख्यमंत्री के ओएसडी के घर से लोकायुक्त के छापे के दौरान जप्त किए गए करोड़ों रूपए के सवाल के जवाब में कहा कि मात्र 12 करोड़ रूपए ही लोकायुक्त को छापे के दौरान मिले हैं लेकिन भाजपा झूठे आंकड़े जनता के सामने प्रस्तुत कर रही हैं।