Ad Code

इतना काम करने के बाद भी हार क्यों जाता हूं: सिंधिया ने पूछा | kolaras, Shivpuri News

शिवपुरी। कोलारस के प्रतिष्ठापूर्ण चुनाव में महज छोटे अंतर से हारे कांग्रेसी विधायक की महेन्द्र सिंह यादव की हार की कसक सिंधिया जी में देखने को मिल रही है। 2014 के लोकसभा चुनाव में गुना संसदीय क्षेत्र की गुना और शिवपुरी विधानसभा क्षेत्र में मिली हार की पीड़ा से सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया अभी तक मुक्त नहीं हो पाए हैं। हाल में संपन्न विधानसभा चुनाव में भी दोनों विधानसभा क्षेत्रों से कांग्रेस को पराजय हासिल हुई थी। कल रात कै. माधवराव सिंधिया न्यास समारोह द्वारा सांसद सिंधिया के सम्मान में आयोजित अभिनंदन समारोह में उनकी पीड़ा खुलकर झलकी। 

अपने भावनात्मक संबोधन में श्री सिंधिया ने कहा कि मैं इतने काम करता हूं और संसदीय क्षेत्र की 8 विधानसभा क्षेत्रों में मुझे जीत मिलती है, लेकिन शिवपुरी और गुना में पराजय? आखिर क्यों। उन्होंने सवाल किया कि मैं क्या ऐसा काम करूं जिससे मुझे जीत हासिल हो। जहां तक मेरी सामथ्र्य मैं अपने काम में पीछे नहीं रहता। अभिनंदन समारोह में स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट, जिला कांग्रेस अध्यक्ष बैजनाथ सिंह यादव और पूर्व विधायक राजेंद्र भारती सहित अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। 

अपने संबोधन में श्री सिंधिया ने स्वीकार किया कि कोई भी इंसान परफैक्ट नहीं होता। कहीं न कहीं उसमें कमी होती है। ईश्वर इंसान को गलतियां सुधारने के लिए ही भेजता है और मैं अपनी गलतियां सुधारने के लिए हमेशा तत्पर रहता हूं। शिवपुरी और गुना की हार में संभव है कि कहीं न कहीं मेरी गलती रही हो, लेकिन मुझे मेरी कम से कम गलती तो बताएं ताकि मैं उसमें सुधार कर सकूं।

श्री सिंधिया ने प्रधानमंत्री मोदी का नाम लिए बिना कहा कि प्रवासी लोग पांच साल बाद फिर शिवपुरी आएंगे। 2014 में भी वह आए थे, अब आएं तो उनसे पूछिए कि पहले उन्होंने गांधी पार्क मैदान में चुटकी बजाकर पानी लाने की बात कही थी। पांच साल निकल गए, हुआ क्या? 15 साल प्रदेश सरकार के निकल गए, लेकिन शिवपुरी में बूंद भर पानी नहीं आ पाया। 

हमने 31 मार्च तक ओवरहैड टैंक भरने की बात कही थी। जून में यहां पानी लाकर दिखाएंगे। समारोह में स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि सिंधिया के कारण ही शिवपुरी में मेडिकल कॉलेज आया है। श्री सिलावट ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने शिवपुरी में मेडिकल कॉलेज स्वीकृति से इंकार किया था और कहा था कि कहीं कागज के टुकड़े से मेडिकल कॉलेज बनता है, परंतु सिंधिया ने मेडिकल कॉलेज कागज के टुकड़े से बनाकर दिखाया।

समारोह में पूर्व विधायक हरिवल्लभ शुक्ला ने कहा कि देश में सिंधिया जैसे सांसद गिने चुने हैं। वह बहुत मेहनत करते हैं और क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा सक्रिय रहते हैं ऐसे में हमारा भी दायित्व बनता है कि उन्हें अधिक से अधिक मतों से जिताएं। समारोह में माधवराव सिंधिया स्मृति न्यास के सदस्यों ने संसदीय क्षेत्र के लिए अनेक उपलब्धियां दिलाने हेतु सांसद सिंधिया का सम्मान किया। कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन की रस्म रामकुमार शर्मा ने निर्वहन की जबकि संचालन राजेश बिहारी पाठक ने किया। 

अच्छे कार्यकर्ता मंच पर बैठेंगे और हम फर्श पर : सांसद सिंधिया
सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कल पड़ोरा, लुकवासा और शिवपुरी में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में पोलिंग बूथ कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि चुनाव में अच्छे कार्य करने वाले पोलिंग बूथ कार्यकर्ताओं का सम्मान किया जाएगा। चुनाव के बाद आयोजित कार्यक्रम में वे मंच पर बैठंगे और हम फर्श पर। 

उन्होंने कहा कि पोलिंग बूथ कार्यकर्ता अधिक से अधिक मतदान कराएं। कम से कम 75 प्रतिशत मतदान हो और उसमें 60 प्रतिशत वोट कांग्रेस को मिले। इस तरह का परिणाम लाने वाले एक एक पोलिंग के पांच पांच कार्यकर्ताओं को चिन्हित कर उन्हें मंच पर बिठाकर सम्मानित किया जाएगा। ऐसे कार्यकर्ताओं को टेबल पर खाना परोसा जाएगा और हम सब नेता नीचे बैठकर खाना खाएंगे।