Ad Code

खबर का असर: प्रसूति सहायता के नाम पर रिश्वत लेने वाले तत्कालीन BMO पिप्पल संस्पेड

शिवपुरी। आज फिर शिवपुरी समाचार डॉट कॉम की खबर का असर हुआ है। समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बदरवास में पदस्थ तत्कालीन बीएमओ डॉ आरएस पिप्पल का एक वीडियों सबसे पहले शिवपुरी समाचार डॉट कॉम ने प्रकाशित किया था। उसके बाद प्रशासन हरकत में आया और इस मामले की जांच की। जांच के बाद उक्त मामले को सही पाए जाने पर बीएमओ पिप्पल को हटा दिया गया था। अब इस मामले की जांच के बाद ज्वाइंट डायरेक्टर हैल्थ ने बीएमओ पिप्पल को दोषी मानते हुए उन्हें निंलबिंत कर दिया है। 

जो वीडियों शिवपुरी समाचार ने दिखाया था उसमें बीएमओं प्रसूति सहायता दिलाने के नाम पर हिग्राहियों से रिश्वत लेते हुए दिखाई दे रहे थे। कुछ हितग्राहियों ने रिश्वत देते वक्त बीएमओ डॉ पिप्पल का वीडियो बना लिया। मामले में लिखित शिकायत के बाद डॉ पिप्पल को बीएमओ पद से हटा दिया था। मामले की जांच कोलारस एसडीएम द्वारा की जा रही थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर ही डॉ पिप्पल को निलंबित किया गया है। बता दें कि मामला सामने आने के बाद डॉ पिप्पल को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खतौरा भेज दिया था। मामले में कोलारस एसडीएम आशीष तिवारी द्वारा जांच की गई। निलंबन के बाद डॉ पिप्पल को सीएमएचओ आफिस में अटैच कर दिया गया है। निलंबित कर दिया है।

इनका कहना है 
जॉइंट डायरेक्टर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बदरवास आए थे। उन्होंने डॉ.पिप्पल को निलंबित कर सीएमएचओ ऑफिस में अटैच कर दिया है। हालांकि हमें लिखित आदेश नहीं मिला है। 
डॉ सुधीर कश्यप, बीएमओ, बदरवास