छात्राओ से अभद्रता और छेडछाड भारी पडेगी,लगेगा कंरट: गीता पब्लिक की छात्राओ ने बनाया सेफ्टी बॉक्स | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। छात्राओ से अभद्रता छेडछाड करने वाले को अब महंगा साबित होगा। गीता पब्लिक स्कूल की स्टूडेंड वैज्ञानिको ने सेफ्टी बॉक्स बनाया हैं। यह बॉक्स आसानी से कैरी किया जा सकता है और अपालकाल के समय सुरक्षा का अचूक साधन है। इस सैफ्टी बॉक्स से इतना तेज करंट बहता कि कोई भी व्यक्ति को यह 2 मिनिट के लिए सोक्ट कर सकता है।

जानकारी के अनुसार गीता पब्लिक स्कूल की क्लास 9 सीबीएसई की मुस्कान यादव ,सिद्धि गुप्ता, मुस्कान यादव 2 ,खुशप्रीत कौर, गगनदीप कौर, खुशप्रीत कौर 2 ने मिलकर साधारण से स्कूल ड्राइंग बॉक्स को पावर बॉक्स में बदल दिया हैं। 

छात्राअे ने बताया कि यह बॉक्स जो कि 10000 वाट का झटका मार कर  परेशान करने वाले को सबक सिखा सकता है सेफ्टी बॉक्स गर्ल्स की सेफ्टी के लिए बनाया गया है जैसा कि हम रोज न्यूज़ चैनल्स पर और न्यूज़पेपर में देखते हैं कि हर दिन लड़कियों के साथ छेड़छाड़ के मामले सामने आ रहे हैं इसी बात को ध्यान में रखते हुए यह सेफ्टी बॉक्स लड़कियों की सुरक्षा हेतु बनाया गया है

इस प्रोजेक्ट को बनाने में जो कंपोनेंट इस्तेमाल हुए हैं उनमें सबसे पहले हमने डीसी बैटरी लगाई है। जिसकी पावर 3 वोल्ट है यह 3 वोल्ट सप्लाई हमारे सर्किट में लगे हुए इनवर्टर पर जाती है इनवर्टर डीसी सप्लाई को बदल कर एसी बना देता है जोकि अगले चरण में स्टेप अप ट्रांसफॉर्मर को दी जाती है यह स्टेप अप ट्रांसफॉर्मर 3 वोल्ट सप्लाई को 750 वोल्ट में बदल देता है यह 750 वोल्ट सप्लाई आगे चलकर 1600 बोल्ट के तीन कैपेसिटर को दी जाती है यह कैपेसिटर बैंक इस सप्लाई को बूस्ट करके 10000 वोल्ट में बदल देता है जो कि हमारे सर्किट का आउटपुट हैं।

यह 10000 वोल्ट किसी के भी शरीर पर लगता है तो शरीर एक से दो मिनट  के लिए पैरालाइज हो जाता है या शिथिल पड़ जाता है जिससे कि लड़कियों को अपनी सुरक्षा करने के लिए पर्याप्त समय मिल जाता है। इसे आसानी से स्कूल बैग य पर्स में कैरी किया जा सकता है ब जरूरत पड़ने पर आसानी से इसका इस्तेमाल किया जा सकता है इसका स्विच ऑन करते ही यह एक्टिव हो जाता हैं।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया