Ad Code

सरकारी कार्यप्रणाली की भेंट चढ गया कोलारस का सामूहिक विवाह सम्मेलन | kolaras, Shivpuri News

कोलारस। कोलारस की कृषि उपज मंडी प्रांगण में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत निशुल्क विवाह सम्मेलन का आयोजन रखा गया सम्मेलन में सिर्फ कर्ता धर्ताओं ने औपचारिकता निभाई यदि सम्मेलन का प्रचार-प्रसार होता तो और भी गरीब कन्याओं को इसका लाभ मिल जाता कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने पदभार ग्रहण करते ही राशि बढ़ाकर 51000 कर दी परंतु कोलारस जनपद पंचायत द्वारा कराए गए मुख्यमंत्री कन्या विवाह सम्मेलन में जमकर  फर्जीवाड़ा कराया गया है। 

बताया जा रहा है कि  सम्मेलन में ना के बराबर व्यवस्थाएं देखकर ना तो जनप्रतिनिधियों ने कुछ कहा इसके चलते आयोजकों के हौसले बुलंद बने हुए हैं और वह शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं में जमकर चूना लगा रहे हैं। जबकि शासन द्वारा भेजा गया बजट पूरा कागजी कार्रवाई कर ठिकानेलगाने की तैयारी कर ली गई जनपद पंचायत द्वारा कराए गए सामूहिक विवाह सम्मेलन में बहुत बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़ा हुआ है यदि इस पूरे सामूहिक विवाह सम्मेलन की बारीकी से जांच की जाए तो फर्जीवाड़ा सबके सामने निकल कर सामने आ जाएगा

फर्जी मेडिकल आधार में उम्र बढ़ाकर जमा करवाए फार्म 

शासन द्वारा कोलारस की कृषि उपज मंडी प्रांगण में कराए गए सामूहिक मुख्यमंत्री कन्या विवाह सम्मेलन मैं ऐसे जोड़े भी मौजूद थे जिनकी उम्र अभी शादी लायक नहीं हुई है परंतु सम्मेलन के कर्ताधर्ता ओं ने ले देकर ऐसे फार्म भी जमा करा दिए और उनके विवाह संपन्न करा दिए यहां पर नाबालिग युवक युवतियों के तक विवाह संपन्न कराए गए पहले भी ऐसे मामले अनेक आए परंतु कोई कार्रवाई नहीं की गई कोलारसमें आयोजित हुए इस सामूहिक विवाह सम्मेलन में मात्र 15 जोड़े शादी के बंधन में बंधे यदि प्रचार-प्रसार होता तो और अधिक जोड़ें हो जाते।

परंतु जनपद के कर्ताधर्ता ओं ने ना तो प्रचार प्रसार किया और ना ही सचिवों के द्वारा गांव में प्रचार कराया गया जिससे गरीब कन्याओं को लाभ शासन की योजना का मिल पाता कुल मिलाकर जनपद पंचायत द्वारा आयोजित कराए गए मुख्यमंत्री कन्या विवाह सम्मेलन में जमकर मनमानी फर्जीवाड़ा किया गया है यदि इस पूरे मामले की जांच की जाए तो बहुत बड़ा फर्जीवाड़ा निकल कर सबके सामने आ सकता है।