ShivpuriSamachar.COM

Bhopal Samachar

जो छात्र जीवाजी यूनिवर्सिटी में नियमित प्रवेश नहीं ले पाए वे इग्नू से घर बैठकर पढ़ाई करे | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। जो छात्र-छात्राएं जीवाजी यूनवर्सिटी से बीए, बीएससी, एमए आदि कोर्स के लिए नियमित प्रवेश नहीं ले पाए। घर बैठकर पढ़ाई करने वालो शिवपुरी जिले के छात्र-छात्राओं के लिए इग्नू में दाखिला ले सकता हैं। छात्रों को इग्नू में प्रवेश के बारे में सूचना देने के लिए गुरुवार को पीजी कॉलेज में काउंसिलिंग रखी गई।इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) में दाखिले के लिए 15 जनवरी आखिरी तारीख है। पीजी कॉलेज शिवपुरी में इग्नू का नियमित अध्ययन केंद्र दिसंबर 2018 से खुल गया है  

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा

प्रवेश लेने के इच्छुक छात्र अब तक रजिस्ट्रेशन नहीं करा पाएं हैं वे इग्नू ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शहर में किसी भी नेट कैफे में जाकर करा सकते हैं। छात्र स्वयं भी घर बैठे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। पीजी कॉलेज में खोले गए इग्नू सेंटर के समन्वयक डॉ गुलाब सिंह ने बताया कि छात्र 16 तरह के कोर्स घर बैठकर कर सकते हैं। कॉलेज में नियमित प्रवेश से कई छात्र वंचित रह जाते थे। इसलिए इग्नू सेंटर पीजी कॉलेज में खुलवाया गया है। अब छात्र मास्टर डिग्री, ग्रेजुएशन, डिप्लोमा, पीजी डिप्लोमा कर सकते हैं। 

एडमिशन के बाद बीच सत्र में कक्षाएं भी लगेंगी 

इग्नू में प्रवेश लेने के बाद छात्र-छात्राओं के लिए पीजी कॉलेज शिवपुरी में बीच सत्र के दौरा कक्षाएं भी संचालित की जाएंगी। एडमिशन के लिए ऑनलाइन आवेदन के बाद यूनिवर्सिटी से वेरीफिकेशन कर एप्रूवल होगा। इसी के साथ नामांकन का मैसेज छात्र के मोबाइल पर आएगा और फिर छात्र की आईडी के साथ आईकार्ड भी जनरेट होगा। 
                       
खास: एससी-एसटी वर्ग के छात्रों की फीस माफ होगी 

इग्नू में प्रवेश लेकर पढ़ाई जारी रखने वाले छात्रों की फीस माफ की जाएगी। नियमिति अध्ययन केंद्र के समन्वयक डॉ गुलाब सिंह ने बताया कि ऑनलाइन आवेदन के साथ एससी-एसटी छात्रों को पहले 1500 से 2000 फीस जमा कराना होगी। इसके बाद फीस वापसी के लिए अलग से आवेदन करना होगा। उसके बाद संबंधित छात्रों को फीस की राशि वापस मिल जाएगी। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics