Ad Code

शर्म करो सरकार: उर्पाजन केन्द्र पर कड़कड़ाती ठंड में खुले में रात गुजार रहा है किसान l Shivpuri News

शिवपुरी। जब से प्रदेश मेें कांग्रेस सरकार आई किसान का संकट खत्म होेने का नाम नही ले रहा है। किसान को कांग्रेस सरकार लगातार क्लेश दे रही हैं। अभी यूरिया संकट खत्म नही हुआ हैं,अब उपार्जन केन्द्रो पर तुलाई का क्लेश चालू हो गया हैं। उपार्जन केन्द्रो पर व्यवस्था सही नही होने पर किसानो का नंबर 5 से 7 दिन में आ रहा है। किसान इस कडकडाती ठंड में खुले में सोने को मजबूर है। नई नवेली सरकार में कांग्रेस अभी स्वागत में व्यस्त है। भाजपा सत्ता जाने के गम में दुखी है। 

जैसा विदित हैं कि जिला मुख्यालय से 10 किमी दूर पिपरसमां स्थित बालाजी वेयर हाउस पर तीन-तीन सोसाइटियों के खरीदी केंद्र बना दिए गए हैं। जगह की कमी होने से यहां किसानों की भीड़ अधिक है। तुलाई में भी वक्त लग रहा है। ऐसे में हालात यह हैं कि किसान चार से पांच दिनों से लाइन में लगे हैं। उपज चोरी न हो जाए, इसलिए सर्द रातें भी खुले में बिताने को मजबूर हैं। सर्दी की चपेट में आने से कई किसान बीमार हो गए हैं, फिर भी वे दवाइयां खाकर मौके पर ही डटे हैं। 

बालाजी वेयर हाउस पर सोसाइटियों पर 3 से 4 ट्रॉली ही उपज ही तौली जा रही है जिससे अन्य किसानों का नंबर तक नहीं आ पा रहा है। सबसे अधिक परेशानी में गरीब किसान हैं जो सर्द रातें खुले में बिता रहे हैं। सर्दी से बचने के लिए अलाव जलाकर उसी के सहारे रातें बिता रहे हैं। स्थिति यह है कि शहर से दूर खरीदी केंद्र होने से किसानों का नहाना तो दूर खाना-पीना भी ठीक से नहीं हो पा रहा है। 

सर्दी के कारण बीमार हो रहे है किसान 
उपार्जन केन्द्र से खबर आ रही है कि किसान हल्केराम जाटव निवासी नयागांव ,नंदकिशोर धाकड ग्राम बछौरा सहित कई किसान खुले में रात बीताने के कारण बीमार हो गए है।कई किसानो पर अपने वाहन नही है उपज में समय लगने के कारण खडे—खडे ही उन पर किराया लग रहा है।प्रशासन के अधिकारी उपज केन्द्रो के पर जायजा लेने नही जा रहे है। भाजपा अभी सत्ता से उतरने के गम है और कांग्रेस अभी स्वागत में व्यस्त है अन्नदाता के लिए किसी के पास भी समय नही हैं।