कमलेश के आरोपीयों की बहू से थे अवैध संबंध, इसलिए कर दी थी हत्या, दबौचे | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। खबर जिले के पोहरी थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां पुलिस ने चार दिन पहले की गई हत्या के मामले में चार आरोपीयों को गिरफ्तार कर लिया है। पकडे गए आरोपीयों ने स्वीकारा है कि यह हत्या उन्होंने बहू के साथ अवैध संबंधों के चलते की है। इस मामले में पुलिस ने सभी आरोपीयों को गिरफ्तार कर विवेचना में ले लिया है। 

जानकारी के अनुसार बीते 4 दिसंबर को पोहरी पुलिस को सूचना मिली कि ग्राम भदरौनी में किसी अज्ञात व्यक्ति की हत्या कर शब बलराम परिहार के घर के सामने फैंक दिया है। इस सूचना पर पोहरी थाना प्रभारी एस.एस.सिकरवार मय दल के मौके पर पहुंचे और देखा तो वहां एक लाश पडी हुई थी। 

जब इस लाश की शिनाक्त की तो पता चला कि म्रतक का नाम कमलेश पुत्र चरनू बंजारा निवासी भदरौनी है। इस मामले में पुलिस ने म्रतक के पिता चरनू बंजारा की शिकायत पर आरोपी शिवचरन परिहार, धनीराम परिहार, बन्ना उर्फ बलराम परिहार, रूपेश परिहार निवासी गण ग्राम भदरौनी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया था। इस मामले में पुलिस आरोपीयों को पकडने के प्रयास में जुट गई। 

इस घटना के बाद से फरार चल रहे चारों आरोपीयों को पकडने पुलिस दविश दे रही थी। लेकिन आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर चल रहे थे। बीते रोज पुलिस को सूचना मिली कि उक्त बारदात के चारों आरोपी जयपुर भागने की फिराक में है। और इस समय मारौरा के पास बस का इंतजार कर रहे है। इस सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मुखबिर के बताए गए स्थान पर पहुंचकर दविस दी। इस दौरान पुलिस ने घेराबंदी कर चारों आरोपीयों को हिरासत में ले लिया। 

जब पुलिस ने आरोपीयों से पूछताछ की तो समाने आया कि शिवचरन परिहार की बहू जिसका पति रायसिहं जो 06 वर्ष पूर्व एक्सीडेन्ट मे मर गया था वह एकान्त अपने मकान मे रहती थी उसके अबैध सम्वन्ध कमलेश बंजारा पुत्र चरनू बंजारा निवासी भदरौनी से हो गये थे उसका महिला के घर पर आना जाना था इस बात पर महिला के परिवारजन जैठ शिवचरन परिहार को उसके यहां आना जाना मंजूर नही था। 

इस बात को लेकर आरोपी पहले भी कमलेश को समझाईश दे चुके थे। परंतु आरोपी उक्त हरकत से बाज नहीं आ रहा था। बीती रात्रि म्रतक फिर महिला के मकान पर आया उस समय महिला का जैठ शिवचरन परिहार जो जाग रहा था। उसने कमलेश को आते हुए देखा उसके आने के ऊपर से अत्यधिक उत्तजित होकर शिवचरन परिहार नें अपने भाई धनीराम परिहार, बन्ना उर्फ बलराम परिहार, रूपेश परिहार को एकत्रित कर एक राय होकर कमलेश बंजारा को घेरकर धारदार हथियारो से हमला कर उसकी हत्या कर दी। एवं म्रतक कमलेश के शव को घसीटकर अपने मकान पर खीचकर लाये सबूतों को मिटाने के उदृेश्य से उसे फैंक कर चले गए। 

इस मामले में पुलिस ने सभी आरोपीयों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां से सभी आरोपीयेां को न्यायालय ने जेल भेज दिया। इन आरोपीयों को पकडने में पोहरी थाना प्रभारी एसएस सिकरवार, उपनिरीक्षक संजीब पबार, उपनिरीक्षक हेमा गौतम सहित आरक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका रही। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics