Ad Code

सेसई में गौशाला में हालात बद्तर, लाखों के बजट को ठिकाने लगा रहे है कर्ताधर्ता | kolaras Shivpuri News

कोलारस। खबर जिले के कोलारस अनुविभाग के सैसई कस्बे से आ रही है। जहां सरेआम गाय के नाम पर घोटाला जारी है। जहां गायों को गौ माता का दर्जा दे रही है, गायों की जहां हिंदू समाज द्वारा पूजा की जाती है ,वही कोलारस अनु विभाग के ग्राम सेसई सड़क में स्थित गौशाला की हालत बद से बदतर स्थिति में पहुंच गई है ,यहां पर शासन द्वारा गायों की देखभाल और उनको खुराक के लिए शासन द्वारा लाखों रुपए का अनुदान इन को सालों से भेजा जा रहा है।

परंतु इसके विपरीत गौशालायों की हालत दयनीय स्थिति में दिखाई दे रही है ,और गायों को ना तो समय पर खिलाया जा रहा है ,और ठंड से बचने के लिए वहां पर मात्र एक बैनर टांग दिया गया है ,इसके चलते यहां पर स्थित गौशाला दिखावा साबित हो रही है, गौशालाओं से संबंधित  अधिकारी और जनप्रतिनिधि यदि इन , गौशालाओं का निरीक्षण करें तो अनेक खामियां निरीक्षण के बाद उजागर हो सकती हैं, कुल मिलाकर सेसई में स्थित गौशाला को कागजों में चलाया जा रहा है , शासन द्वारा जहां लाखों रुपए गौशाला को बजट के रूप में दिए जा रहे हैं ,वहीं इस बजट को गोशाला को संचालित करने वाले अध्यक्ष से लेकर पूरी कमेटी हजम करने में जुटी हुई है। 

और लाखों रुपए का बजट जो गौशाला के लिए आता है, यह फर्जी तरीके से कागजों में कार्यवाही कर पूरे बजट को प्रतिमाह ठिकाने लगा देते हैं। अधिकांशव्यापारियों से लेकर समाजसेवी देते हैं इन गौशालाओं को दान.   कोलारस समाचार सैफई स्थित गौशाला को शासन तो अनुदान देता ही है साथ ही शिवपुरी जिले के समाजसेवी ओं से लेकर व्यापारी लोग दान करने गौशालाओं में अधिकतर अधिकतर जाते हैं और पुण्य कमाने के लिए वहां पर दान भी बढ़चढ़ कर देते हैं इसके बावजूद भी कोलारस अनु विभाग के ग्राम सेसई सड़क जो की फोरलेन हाईवे पर स्थित है और इस गौशाला की हालत दयनीय स्थिति में दिखाई दे रही है।