PANCARD के बहाने सैंकड़ो ग्रामीणों के BANK खाते साफ, नहीं हो रही सुनवाई

बैराड़। बैराड तहसील क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम गोपालपुर मे बड़ी ही विचित्र व धोखाधड़ी का मामला सामने आया है क्षेत्र के ग्राम गोपालपुर मे करीबन दस से पंद्रह दिवस पूर्व पैन कार्ड बनाने के बहाने 2 लोग ग्राम में आए व ग्रामवासियों से आधार कार्ड मंगवाकर अंगूठा लगवाया और उनके खाते में डली राशि को निकाल लिया व बहा से रफूचक्कर हो गए और बता दें कि इस तरीके का मामला इससे पूर्व भी देखने को मिला है।

ग्रामवासियों से इस मामले में बातचीत की तो ग्रामवासियों का कहना है कि हमसे पैन कार्ड बनाने की कहकर हमारे खाते से पूरी राशि निकाल ली गई जिसमें एक शिकारी का कहना है कि मेरी प्रधानमंत्री आवास की राशि 18000  रूपय शेष मेरे खाते में रह गयी थी उसमें से 10000 रूपय पैन कार्ड बनाने वालों के द्वारा निकाले जा चुके हैं जिसकी रिपोर्ट पीडित ग्रामवासियों द्वारा थाना गोपालपुर मे की जा चुकी है परन्तु कोई कार्यवाही अभी तक नहीं की गई है देखा जाए तो केवल एक ही खाते से राशि नहीं निकाली गई बल्कि कई खातों से राशि निकाल ली गई है ऐसा ही एक और मामला ग्राम बसई का भी है जहां सैंकडो ग्राम वासियों से एटीएम बनाने की कहकर उनके खाते से पैसा निकाल लिया गया।

जिसकी शिकायत को लेकर पीडित ग्रामवासी एक आवेदन बनाकर गोवर्धन थाना पहुंचे जहां उनकी कोई सुनवाई न कर बैराड थाना भेज दिया और बैराड थाने पर उनको कहा कि बह गोवर्धन थाना जाएं जबकि थाना प्रभारी गोवर्धन से इस मामले मे बात की तो उन्होने साफ मना कर दिया कि हमारे यहा कोई ग्रामवासी ऐसी कोई शिकायत या आवेदन नही लाया है जबकि सभी पीडित ग्राम वासियों का कहना है कि हम शिकायत करने गए है जिसको लेकर पहले भी समाचार छप चुका है प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम वासियों के खातो में पेंशन  मजदूरी व प्रधानमंत्री आवास योजना की राशि डली हुई थी जिसे उन बदमाशों द्वारा साफ कर दिया गया है देखा जाए तो उन ग्रामों में ज्यादातर आदिवासी निवास करते हैं और आदिवासी ज्यादातर पढ़े-लिखे नहीं है। 

वह बिल्कुल सीधा साधा इंसान है जिसे इन बदमास लोगों की वजह से बड़े ही नुकसान का सामना करना पड़ रहा है साथ ही बह कोर्ट-कचहरी या थाने के चक्कर में भी नहीं पढऩा चाहता इस वजह से वह शिकायत करने भी नहीं जाता है ओर इसका फायदा यह लोग उठा रहे हैं जो मुंह पर कपड़ा बांधकर आते है और लोगों को पैन कार्ड और एटीएम बनाने का बहाना देकर पैसा निकाल रहे हैं अभी तक यह मामला दो ही ग्रामों से सामने आया है यदि पड़ताल की जाए तो कहीं गिनती ज्यादा ना हो जाए। लेकिन ग्रामों से शिकायत भी की जा चुकी है इसके बाद भी कोई कार्रवाई इस मामले में नहीं की जा रही है।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया