ब्लड बैंक से ब्लड एक्सचेंज करने पर देने होंगें 1050 रू: विभाग का आदेश | Shivpuri News

शिवपुरी। जिला अस्पताल शिवपुरी स्थित एक मात्र ब्लड बैंक में अब खून के बदले खून लेने के लिए 1050 रुपए की रसीद कटवाना होगी। अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती मरीज को खून की जरूरत पड़ती है तो परिजन अपना खून दे तो सकेंगे। लेकिन इसके बदले उन्हें निर्धारित राशि जमा हर हाल में जमा कराना पड़ेगी। 

स्वास्थ्य विभाग के नए आदेश के बाद जिला अस्पताल में यह व्यवस्था लागू हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के आदेश से खून की जरूरत पर संबंधित मरीज और उनके परिजनों के लिए मुश्किल खड़ी हो सकती है। हालांकि यह व्यवस्था प्रसूताओं, बच्चों और एसएनसीयू में भर्ती रहने वाले नवजात शिशु सहित गंभीर दुर्घटना में घायल के लिए लागू नहीं है। 

संबंधित मरीजों को ब्लड बैंक में मौजूद दूसरे ग्रुप के खून की जरूरत है तो परिजन अपना खून दे सकते हैं। इसका चार्ज उनसे नहीं लिया जाएगा। 1050 रुपए उन्हीं मरीजों पर लागू किए हैं जो सामान्य वर्ग से हैं। खून की जरूरत होने पर परिजनों को पहले रसीद कटवानी पड़ेगी। इससे पूर्व यह व्यवस्था अस्पताल में लागू नहीं थी। 

अभी तक प्राइवेट इलाज करा रहे मरीजों पर लागू थी व्यवस्था

शिवपुरी शहर के प्राइवेट अस्पतालों में इलाज करा रहे मरीजों के लिए ब्लड बैंक से 1050 रुपए जमा कर रसीद कटवाना पड़ती थी। मरीजों के अटेंडर जिला अस्पताल आकर खून देते थे और बदले में मरीज की जरूरत के आधार पर संबंधित ग्रुप का खून ले जाते थे। अब जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों को भी यह राशि देना होगी। 
                  
खून की जांच के नाम पर लिए जाएंगे रुपए 

जिला अस्पताल में खून एक्सचेंज के लिए संबंधित मरीज के परिचित व्यक्ति का ब्लड सैंपल लेकर जांच की जाती है। उसके बाद ही रक्तदान संभव है। खून की जांच में एचआईव्ही एड्स से लेकर अन्य जरूरी जांचें भी होती हैं। इन्हीं जांचों के लिए संबंधित व्यक्ति से 1050 रुपए लिए जाते हैं। अभी तक अस्पताल में यह व्यवस्था मुफ्त थी। अब सिर्फ प्रसूता, एसएनसीयू में भर्ती शिशु, बच्चे व ट्रोमा सेंटर में गंभीर घायलों को ही मुफ्त में खून मिल सकेगा। 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया