Ad Code

दशहरा,चैल्लुम पर्व के जुलूस और रैलियों की लेनी होगी परमीशन | Shivpuri Samachar

शिवपुरी। महानवमी, दशहरा (विजयादशमी) एवं चैल्लुम पर्व पर की जाने वाली प्रशासनिक व्यवस्थाओं के संबंध में आज जिलादण्डाधिकारी श्रीमती शिल्पा गुप्ता की अध्यक्षता में सद्भावना एवं समन्वय समिति की जिला स्तरीय बैठक सोमवार को जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। बैठक में पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर, अपर कलेक्टर अशोक कुमार चौहान, अनुविभागीय दण्डाधिकारी शिवपुरी प्रदीप सिंह तोमर सहित समिति के सम्मानीय सदस्यगण एवं जनप्रतिनिधि तथा संबंधित विभागों के जिला अधिकारीगण आदि उपस्थित थे। 

कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने उक्त पर्वों पर की जाने वाली प्रशासनिक व्यवस्थाओं के संबंध में चर्चा करते हुए बताया कि विधानसभा आम निर्वाचन 2018 का कार्यक्रम जारी होते ही जिले में भी आदर्श आचरण संहिता लागू हो गई है। उक्त पर्वों पर निकलने वाले जुलूस एवं उपयोग में किए जाने वाले ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग आयोग के निर्देशों का पालन करते हुए विधिवत अनुमति भी लें और रात्रि 10 बजे के पश्चात ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग न किया जाए। गरबा मण्डल रात्रि 12 बजे तक अनुविभागीय दण्डाधिकारी की अनुमति से ही ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग कर सकेंगे। बैठक में कोर्ट रोड़ एवं सिद्धेश्वर रोड़ पर चल रहे निर्माण कार्य को देखते हुए उक्त पर्वों पर निकलने वाले चल समारोह को परिवर्तित मार्गों से निकालने पर चर्चा की गई। 

श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने चैल्लुम पर निकलने वाले ताजियों के संबंध में निर्देश दिए कि ताजियों की ऊँचाई 15 फिट से अधिक न हो। इस संबंध में उन्होंने अनुविभागीय दण्डाधिकारी शिवपुरी को निर्देश दिए कि वे नगर के सभी थानों प्रभारियों के साथ ताजियेदारों की भी बैठक आयोजित कर ताजियों की ऊँचाई के बारे में स्पष्ट निर्देश दिए जाए। उन्होंने कहा कि ताजिया संचालक निर्धारित समय पर निकालें। जिससे सही समय पर उनका विसर्जन हो सके। इसकी जानकारी भी ताजियेदारों को दी जाए। करबला पर ताजिए विसर्जन के दौरान साफ-सफाई एवं प्रकाश की समुचित व्यवस्था करने के संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। 

पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर ने शहर में आयोजित होने वाले रावण दहन के कार्यक्रम के संचालकों को स्पष्ट निर्देश दिए कि रावण दहन स्थल पर सुरक्षा के समुचित व्यवस्था की जाए और यह भी सुनिश्चित करें कि रावण दहन के आस-पास लोग उपस्थित न रहे। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि निकलने वाले जुलूसों के दौरान समिति के सदस्यों के दौरान समाज के अनुभवी एवं वरिष्ठजन भी साथ रहे।