भाजपा: करैरा में महिला बम्ब प्लाट, तो कोलारस में सोशल की बार, ग्रह क्लेश चरम पर | Shivpuri Samachar

ईमरान अली/कोलारस। जैसे-जैसे प्रदेश में आज चुनाव नजदीक आते जा रहे है वैसे-वैसे ही नेताओ ने शंतरज जैसी चाले चलनी शुरू कर दी हैं। करैरा का महिला बम्ब तो सुर्खिया पूरे प्रदेश में बटौर रहा हैं। कोलारस में भी ग्रह क्लेश चरम पर हैं। टिकिट फायनल होने से पूर्व सेमीफायनल शुरू हो चुका हैं। कोलारस में अब सोशलवार शुरू हो गया हैं।

एक तरफ भाजपा कोलारस उपचुनाव की हार के बाद इस बार एड़ी चोटी का जोर लगाने के मूड में है। वहीं उनही के पार्टी के पदो पर बैठे नेता एक दूसरी की टांग खिंचाई कर जग हसाई करा रहे है। बताया जाता है की टिकिट होड़ में भाजपा का ग्रह कलेश अब सोशल मीडिया पर आ गया है। जहां जानकारी के अनुसार भाजपा युवा मोर्चा जिला मंत्री ने कोलारस मंण्डल अध्यक्ष पर तंज कस्ते हुए फेसबुक पर ज्बलंत पोस्ट डालकर भाजपा मंडल अध्यक्ष कोलारस की कार्यप्रणाली के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। 

बताया जाता है भाजपा जनता युवा मोर्चा के जिला मंत्री़ ने अपनी फेसबुक आधिकारीक आईडी प्रदीप धाकड़ से पोस्ट करते हुए लिखा है की ‘‘भाजपा कोलारस मण्डल अध्यक्ष ग्राम केन्दो की बैठकें भी ना करा सका फिर कैसे होगा अबकी बार कोलारस पार’’ इस पोस्ट के द्वारा प्रदीप धाकड़ ने भाजपा कोलारस मण्डल अध्यक्ष की कार्य शैली पर सवाल उठाए है। 

इसके पीछे क्या कारण रहे यह तो कहना फिलहाल मुश्किल है। लेकिन पोस्ट के बायरल होते ही कई तरह के सवाल खड़े होने लगे है। वहीं लोगो ने पोस्ट पर कमेंट कर अपनी प्रतिक्रियाऐं दी है। वहीं पोस्ट डालने वाले प्रदीप धाकड़ कोलारस निवासी और भाजपा प्रदेश कार्यकारणी सदस्य सुरेन्द्र शर्मा के करीबी बताए जा रहे है। ऐसे में यह कयास लगना शुरू हो गए है की विरोधिया ने दुसरो के कंधो पर बंदूर रखकर चलाना शुरू कर दी हो। 

साथ ही खुद को टिकिट की दौड़ में आगे रखने के लिए और अन्य को मात देने के लिए इस तरह के राजनैतिक हथकंडे अपनाये जा रहे है। साथ ही यह पोस्ट ऐसे समय पर की गई है जब भाजपा मण्डल अध्यक्ष भी अपने आप को टिकिट की दौड़ में मान रहे है। लेकिन भाजपा युवा मोर्चा जिला पदाधिकारी द्वारा इस तरह से खुलेआम फेसबुक जैसे सार्वजनिक सोशल मंच से मण्डल अध्यक्ष की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाना कई सवालो को जन्म दे रहा है।

मामला जो भी हो लेकिन इस तरह की गुटबाजी ने भाजपा के शीर्ष नेताओ को असमंजिश में डाल दिया है। ऐसा ही चलता रहा तो भाजपा इस बार भी गुटबाजी में उलझी रहेगी और इसका सीधा फायदा अन्य राजनैतिक पार्टीयो को मिल सकता है। 

उपचुनाव ही हार के बाद भी गुटबाजी आई थी सामने
कोलारस उपचुनाव में भाजपा की हार के बाद भी ऐसे ही कई लोगो पर गुटबाजी कर भाजपा को हार की तरफ मोड़ने के आरोप प्रत्योप लगे थे। जिसमें कोलारस नगर की हार में कोलारस मण्डल का नाम भी शामिल था। इसके साथ ही दबि जुबांन से कांग्रेस के बागी नेता और भाजपा से टिकिट के उम्मीदबार उपचुनाव में टिकिट न मिलने से नाराज नेताजी का नाम भी लिया जा रहा था। 

साथ ही कई अन्य कई लोगो पर खुलकर गुटबाजी कर भाजपा को हराने की बात सामने आई थी। अब इन बातो में कितना सच था कितना झूठ यह तो फिलहाल कोई नही जानता। लेकिन भाजपा को इस तरह की गुटबाज एक बार फिर बड़े नुकसान की और ले जा सकती है।इसी गुटवाजी के चलते एक भाजपा ने नेता ने अपने समर्थक नसे एक भाजपा नेता की विडियो शोसल पर पोस्ट करा दी हैं,जो आजकल सुर्खियो में बनी हैं। 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया