Ad Code

Responsive Advertisement

डेंगू के आगे झुका शिवपुरी अस्पताल,जांच बंद, किट खत्म, आऐगी आंकडो में कमी | Shivpuri News

शिवपुरी। शहर के गलियो और अस्पताल से होते हुए जानलेवा बुखार डेंगू अब न्यायालय की चौखट तक पहुंच गया। सुना है अब न्यायालय में डेंगू की सुनवाई शुरू होने वाली हैं,शिवपुरी स्वास्थय विभाग डेंगू को लेकर होली बुलेटिन जैसे बयान दे रहा है कि शिवपुरी के मरीजो में डेंगू के लक्ष्ण नही मिल रहे है,इसे कह सकते है,लापरवाही और झूठ की पराकाष्ठा,अब डेंगू को लेकर अस्पातल से खबर से आ रही है कि अस्पाताल में जांच बंद,किट खत्म यह प्रयास कि कैसे भी सरकारी आंकडो में डेंगू की कमी आए। 

डेंगू के प्राथमिक स्टेज की जांच किट खत्म 
जिला अस्पताल में डेंगू की प्रारंभिक जांच वाली एसएन-1 एलाइजा किट दो दिन पहले ही खत्म होने से मरीजों की जांच ही नहीं हो पा रही है। ऐसे में मरीजों को वार्ड में भर्ती कर बिना जांच के ही इलाज शुरू कर दिया गया है।

जिले में डेंगू फैलने की स्थिति से अफसर भलीभांति परिचित हैं। सिर्फ जिला अस्पताल में ही डेंगू जांच की सुविधा उपलब्ध है। इसके बाद भी किट का प्रबंध नहीं होने से बड़ी खामी उजागर हुई है। इधर, शहर में स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार को संख्या 26 से बढ़ाकर 31 टीमें उतार दी हैं। 1680 घरों में युद्ध स्तर पर सर्वे किया गया। इस दौरान 348 घरों में डेंगू का लार्वा मिला है। संबंधित लोगों को हिदायत दी गई है। 

अस्पताल की स्टाफ नर्स को भी डेंगू 
अस्पताल में पदस्थ स्टाफ नर्स प्रिय विश्वकर्मा को डेंगू हो गया है। शुक्रवार को आईजीएम- एलाइजा जांच करवाई है। लेकिन एनएस-1 एलाइजा किट के अभाव में कार्या गांव से आए युवक आकाश ओझा पुत्र गोपाल की जांच नहीं हो सकी। 

अधिकारियों का कहना है कि शनिवार को किट आते ही जांच की जाएगी। वहीं कार्यालय में 70 फीसदी से अधिक लाेग बीमार हैं। जिसमें कई लोग ग्वालियर व कोटा इलाज कराने पहुंचे। जांच में सभी को डेंगू पाॅजीटिव निकला है। 

मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर भी मैदान में 
डेंगू पर काबू पाने के लिए शुक्रवार से मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों को भी मैदान में उतार दिया है। डॉ. जीपी माहौर, डॉ. राजेश अहिरवार, डॉ. आनंद राजपूत, डॉ. ओपी सहाय, डॉ. क्षत्रपति राजपूत, डॉ. पवन, डॉ. मानबहादुर, डॉ. विष्णु ने अलग अलग क्षेत्र और स्कूलों में सर्वे किया। शहर के हैप्पीडेज स्कूल, बाल शिक्षा निकेतन स्कूल, उत्कृष्ट स्कूल क्रमांक 2 में छात्र-छात्राओं को लार्वा दिखाकर घर व आसपास ऐसे लार्वा को नष्ट करने के लिए जागरूक किया। 

शनिवार की सुबह तक आ जाएगी एलाइजा जांच किट 
एनएस-1 एलाइजा जांच किट पुणे से इंदौर पहुंच गई है। इंदौर से सप्लाई आ रही है, शनिवार तक किट उपलब्ध हो जाएगी। अस्पताल में फिलहाल संदिग्ध मरीजों का इलाज शुरू करा दिया है। सीबीसी जांच के लिए नई मशीन आ चुकी है। अब दाे मशीनाें से मरीजों की जाचें होंगी। डॉ. अर्जुनलाल शर्मा, सीएमएचओ