Ad Code

मारपीट के मामले में SC-ST ACT दर्ज करा दिया, आधी रात को पंचायत बैठी

शिवपुरी। एससी-एसटी एक्ट का मुकदमा दर्ज होने पर सिरसौद में पंचायत बुलाई गई। फरियादी और आरोपी को बुलाकर आमना-सामना कराया। पंचों ने दोनों पक्षों के तर्क सुने। तय हुआ कि दोनों एक ही गांव के हैं। यह मारपीट का मामला है। जातिवाद से इसका कोई संबंध नहीं है अत: एससी-एसटी एक्ट वापस लेना चाहिए परंतु फरियादी तैयार नहीं हुआ और पंचायत ने फैसला कानून पर ही छोड़ दिया है। 

जानकारी के मुताबिक फरियादी मलखान सिंह परिहार निवासी सिरसौद ने गांव के ही ज्ञानचंद्र लोधी पुत्र शिवदयाल लोधी पर मारपीट व एससी-एसटी एक्ट का मुकदमा अमोला थाने में दर्ज कराया है। आरोपी ने एससी-एसटी एक्ट का मुकदमा गलत दर्ज कराने का आरोप फरियादी पर लगाया। पूरे गांव ने मिलकर पंचायत बुलाने का फैसला किया। 

महाकाली माता मंदिर परिसर में गत रोज 11 बजे से 2.30 बजे तक पंचायत में पंचों के सामने फरियादी व आरोपी का पक्ष सुना गया। पंचों ने माना कि आरोपी ने ज्ञानचंद्र ने मलखान की मारपीट की है। फिर भी उन्होंने एससीएसटी एक्ट का केस वापस लेने की बात कही। फरियादी मलखान इस पर राजी नहीं हुआ।

निष्कर्ष नहीं निकलने पर पंचों ने कहा कि अब कानून ही इसका फैसला करेगा। इसी के साथ पंचायत समाप्त हो गई। पुलिस द्वारा कोर्ट में चालान पेश करने से पहले ही एससी-एसटी एक्ट को लेकर पंचायत बैठ गई।