वन्य प्राणी संरक्षण: अब हमें संतुलन के लिए वनों का पुन:निर्माण करना होगा

पोहरी। वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले पोहरी नगर के शासकीय माध्यमिक विद्यालय में वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह के तहत  एक कार्यक्रम रखा गया। इस कार्यक्रम मैं  छात्राओं के द्वारा निबंध प्रतियोगिता की गई। जैसा कि ज्ञात है। की प्रति वर्ष 1 अक्टूबर से 7 अक्टूबर तक वन विभाग के द्वारा वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह मनाया जाता है। जिसके अंतर्गत अनेकों कार्यक्रम किए जाते हैं। इसी क्रम में आज पोहरी विकास खण्ड  के शासकीय कन्या हायर सेकेंडरी विद्यालय में पोहरी वन परिक्षेत्र अधिकारी के पी एस धाकड़ के मार्गदर्शन में वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह के चलते एक निबंध  प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। 

जिसमें सभी छात्राओं ने भाग लिया। इस कार्यक्रम का उद्देश्य हमारी आने वाली पीढ़ी को वन एवं वन्यजीवों के संबंध में विस्तृत जानकारी देना था तथा वनों के अभाव मैं भविष्य में आने वाली कठिनाइयों से अवगत कराना था।  

इस कार्यक्रम के माध्यम से पोहरी वन परिक्षेत्र अधिकारी के पी एस धाकड़ ने बच्चों को विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि वन हमारी बहुमूल्य संपदा है, इनके बिना हमारा जीवन संभव नहीं है। अतः हमें वन के संरक्षण में अपनी भूमिका निभाना अति आवश्यक है, क्योंकि भविष्य में अगर वन नहीं होंगे तो हमारा अस्तित्व भी संभव नहीं है। इसी प्रकार लगातार वनों की अंधाधुंध कटाई के चलते हमारे वन्य प्राणी भी रिहायशी इलाकों में आ जाते हैं। 

जिसके चलते हमें काफी परेशानियां होती है, इसलिए हमें चाहिए की वनों की रक्षा के साथ साथ वन्य प्राणियों की भी रक्षा करें, क्योंकि अगर वन खत्म हो गए तो हम शायद वृक्षारोपण कर वनों का पुनःनिर्माण कर सकते हैं। परंतु अगर हमारी लापरवाही के कारणवन्य प्राणी विलुप्त हो गए तो उन्हें पुनः जीवित करना या प्रकृति में उत्पन्न करना असंभव है। 

साथ ही वन परिक्षेत्र अधिकारी के द्वारा बच्चों से कहा गया कि आप इस कार्यक्रम के माध्यम से अपनी प्रतिभाओं को हमारे समक्ष प्रस्तुत करें।और वन प्राणी संरक्षण के प्रति जो भी छात्र-छात्राएं उत्कृष्ट प्रस्तुति देंगे। उन छात्र छात्राओं को हमारे द्वारा पुरस्कृत भी किया जाएगा ।

इन्हीं सब उद्बमोदन के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया। एवं बच्चों के द्वारा कार्यक्रम को सफल बनाने में बढ़-चढ़कर भाग लिया गया एवं शिक्षकों के द्वारा भी कार्यक्रम में भरपूर सहयोग प्रदान किया गया। जिसमें शासकीय कन्या हयर सेकेंडरी विद्यालय से भी सभी शिक्षक/शिक्षिकाएं उपस्थित रहे। कार्यक्रम में वन परिक्षेत्रधिकारी कृष्णपाल सिंह धाकड़, डिप्टी  रेंजर अशोक बंसल, सुरेश भार्गव, सिरंगी तिवारी वनरक्षक गिर्राज शर्मा, मुकेश आदि लोग उपस्थित रहे तथा कार्यक्रम को सफल बनाया।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया