Ad Code

Responsive Advertisement

SP सहाब ! दंबगों ने किया जमींन पर कब्जा, पुलिस ने शिकायत तक नहीं ली

बैराड़। रजिस्ट्री की जमीन पर दबंगों ने कब्जा कर लिया है और जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। इतना ही नहीं इन्हें नेताओं का संरक्षण है और पुुलिस हमारी सुन नही हैं। यह बात बैराड से आए पिता पुत्र ने एसपी राजेश हिंगणकर से कही जिसके बाद एसपी ने मामले में कार्रवाई का भरोसा दिलाया। चिरौंजीलाल धाकड व मनोज धाकड ने बताया कि बैराड़ के पास कालामढ में उनकी रजिस्ट्री की जमीन है और उसकी रजिस्ट्री उन्होंने वर्ष 2000 में कराई थी और तब से वह जमीन खाली पडी थी और अभी वह उस पर मकान बनवाने के लिए नगर परिषद में गए तो वहां अध्यक्ष के पति दौलत रावत ने उनसे दो लाख रूपयों की मांग की और उन्हें मकान बनाने की परमीशन नहीं दी।

जिसके बाद दौलत रावत, अतरसिंह और सूरज सिंह ने उसकी जमीन पर कब्जा करने का प्रयास िकया और उसके बाद झगडा भी हुआ जिसकी शिकायत उन्होंने बैराड थाने में की लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और उसके बाद उन्होंने उन्हें जान से मारने की धमकी दी। इतना ही नहीं इसकी िशकायत उन्होंने बैराड में नायब तहसीलदार को भी की लेकिन उन्होंने भी कोई कार्रवाई नहीं की। जिसके बाद उन्होंने एसपी को आवेदन दिया जिसके बाद एसपी ने कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

पुलिस ने नहीं लिखी रिपोर्ट 

जब इस अतिक्रमण रिपोर्ट दर्ज कराने फरियादी बैराड़ थाने पहुंचा लेकिन उसकी सुनवाई करने के लिए नाम मात्र के लिए एक आवेदन ले लिया लेकिन आवेदन पर से आज दिनांक तक कोई कार्यवाही नहीं की गई। आखिर ऐसा क्या कारण हैं कि एक अतिक्रमण कारी व्यक्ति के खिलाफ पुलिस प्रशासन कार्यवाही करने से कतरा रहा हैं। इससे यह प्रतित होता हैं कि अतिक्रमण कारी व्यक्ति को खुला संरक्षण है। इस बात की शिकायत एक आवेदन के माध्यम से पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई है कि अतिक्रकारी व्यक्ति के खिलाफ वैधानिक कार्यवाही की मांग की हैं।