Ad Code

ट्रेन की सीट के नीचे प्लास्टिक की थैली में मिला 15 दिन का नवजात

शिवुपरी। अमृतसर-इंदौर एक्सप्रेस ट्रेन की महिला बोगी में एक 15 दिन का नवजात मिला हैं। बरामद उक्त बच्चा चोरी हाने की संभावना जताई जा रही हैं, क्यो कि बच्चे को प्लास्टिक के थैली में रखकर महिला बोगी में सीट के नीचे छुपाकर रखा गया था।मामले में जीआरपी थाना पुलिस ने चाईल्ड लाइन टीम को बुलाकर बच्चे को जिला अस्पताल के एसएनसीयू में भर्ती करया गया हैं। जानकारी के अनुसार गाडी क्रमांक 19326 अमृतसर-इंदौर एक्सप्रेस ट्रेन रविवार को ग्वालियर से चलकर शिवपुरी रेलवे स्टेशन 7:40 बजे पहुंची। यहां कुछ मिनिट रूकने के बाद जैसे ही ट्रेन चलने के लिए हुई,जैसे ही महिला बोगी में बैठी कुछ महिलओ को एक बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी। 

तत्काल गार्ड को सूचित किया गया और ट्रेन को रोका गया ओर उसमें आवाज आ रही उस दिशा में खोजना शुरू किया तो एक सीट के नीचे प्लास्टिक का थैले में एक 15 दिन का नवजात शॉल में रखा मिला। इस बात की सूचना रेलवे स्टेशन मास्टरक को दी और जीआपी पुलिस को बुलाया गया।अस्पताल में भर्ती ट्रेन में मिला बच्चा। 

जीआरपी के प्रधान आरक्षक लखनसिंह रघुवंशी और आरक्षक जसवंत यादव डिब्बे के नजदीक पहुंचे तो ट्रेन चलने लगी। तुरंत ट्रेन को रुकवाया और करीब 5 मिनट तक ट्रेन खड़ी रही। बच्चे सहित थैला लेकर हल्की सी पूछताछ के बाद ट्रेन को रवाना कर दिया और बच्चे को जीआरपी थाने ले आए। 

चाइल्ड लाइन को बुलाया बच्चा अस्पताल में भर्ती 

जीआरपी ने तुरंत चाइल्ड लाइन पर फोन लगाया। नवी अहमद व अरुण सेन स्टेशन पहुंचे और जीआरपी के साथ बच्चे को जिला अस्पताल शिवपुरी ले आए। एसएनसीयू में भर्ती कराने पर डॉ सुनील गौतम ने परीक्षण कर बताया कि बच्चा पूरी तरह स्वस्थ है। हालत देखकर 15 दिन पूर्व जन्म होने की बात कही। बच्चे का वजन 1 किलो 760 ग्राम है।