कलश चोरी: चोर शायद थाने चलकर स्वयं आऐंगें, भूख हड़ताल की चेतावनी सौंपा ज्ञापन | khaniyadhana

शिवपुरी। पिछली 25 जुलाई की रात खनियांधाना के किले में स्थित रामजानकी मंदिर के गुंबद पर वर्षो पुराना 51 किलो वजनी सोने के कलश को चोरी हुए 1 माह से अधिक गुजर चुके हैं, लेकिन पुलिस अभी तक कोई सुराग नही लगा पाई हैं। पुलिस शायद समझ बैठी है कि चोर चलकर स्वयं ही थाने आ सकते हैं। 

इससे क्रोधित खनियांधाना कस्बे के सर्वजातीय सैकड़ों जागरूक लोग इकटठे हुए और रैली की शक्ल में तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कलश चोरी की जांच सीबीआई से कराने की मांग की गई है और 7 दिन का अल्टीमेटम दिया गया है। यदि कार्रवाई न हुई तो खनियांधाना के बाजार 8 सितंबर को बंद किए जाएंगे। अनिश्चितकालीन भूख हडताल की जाएगी। 

ज्ञापन देने वालों में भाजपा मंडल अध्यक्ष भानु जैन, नगर परिषद अध्यक्ष शैलेन्द्र सिंह, कौशलेन्द्र प्रतापसिंह, सतेन्द्र प्रतापसिंह, नवलकिशोर चौबे, सुखनंदन चौबे, संजय शर्मा, चंद्रशेखर पुरोहित, कुल्दीप चौहान, गोपाल राजपूत, पृथ्वीराज चौहान, आशीष जैन सहित नगर के तमाम लोग बड़ी संख्या में ज्ञापन देने पहुंचे थे।

पुलिस नही CBI करे जांच 
नगर के लोग लंबे समय से खामोश हैं लेकिन कलश न मिलने से नाराजगी बढ रही है और आज के ज्ञापन में इस बात का उल्लेख किया गया है कि लंबे समय बाद भी पुलिस किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच पाई है, जबकि यह स्वर्ण कलश एक ऐतिहासिक धरोहर थी। इसके चोरी जाने से क्षेत्र की जनता भ्रमित है। 

यह हमारी प्रतिष्ठा और मर्यादा का प्रश्न है। सीबीआई को जांच सौंपकर हम सभी को न्याय दिलाया जाए। ज्ञापन की कॉपी कलेक्टर सहित मुख्यमंत्री को भेजी गई है। ज्ञापन में यह भी लिखा है कि यदि न्याय न मिला तो मजबूरन सडक़ों पर उतरना होगा और जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया