शराबियो का उपद्रव: समिति के लोगो से भिडें, गणेशजी की मूर्ति तोडी, शिकायत

शिवपुरी। अभी-अभी खबर आ रही है कि शहर के हाथीखाना में स्थित ठाकुर बाबा उत्सव समिति द्वारा आयोजित गणेश विसर्जन के दौरान एक दर्जन के लगभग आरोपियों ने एक राय होकर हाथीखाना उत्सव समिति के सदस्यों के साथ जमकर मारपीट की इस बात की शिकायत करने हाथी का उत्सव समिति के सदस्य पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर के पास पहुंचे जहां एसडीओपी ने आश्वासन देकर रवाना कर दिया और अपना मोबाइल नंबर दे कर कहा कि अगर अब कोई भी परेशानी हो तो मुझे तत्काल बताना मैं फोन बरही तत्काल पुलिस उपलब्ध करा दूंगा लेकिन आरोपी फिर भी नहीं माने और आवेदन देने के बाद फिर पीड़ित कोचिंग जाते समय मारपीट कर दी।

जानकारी के अनुसार हाथी गाना उत्सव समिति ने गणेश चतुर्थी पर  स्थानीय ठाकुर बाबा मंदिर पर गणेश प्रतिमा विराजमान की थी बीते रोज जब पीड़ित पक्ष धूमधाम के साथ मूर्ति को विसर्जन के लिए ले जा रहे थे तभी हवाई पट्टी के पास होटल पर बैठकर शराब पी रहे एक दर्जन शराबियों ने हाथीखाना उत्सव समिति के सदस्यों पर हमला बोल दिया शराबियो के द्वारा आरोपियों ने गणेश प्रतिमा को पूरी तरह से करते हुए तोड़ दिया इतना ही नहीं आरोपियों ने उत्सव समिति के सदस्यों के साथ लाठी डंडों से जमकर मारपीट कर दी इस पूरे मामले की शिकायत आज हाथी खाना उत्सव समिति के सदस्यों ने पुलिस अधीक्षक से की हैं।

वहां मौजूद SDOP श्री दोहरे ने पीड़ित पक्ष को दोबारा वारदात नहीं होने का आश्वासन देकर कार्यवाही करने की बात कही जैसे ही हाथीखाना उत्सव समिति सदस्य कुलदीप धाकड़ अपने घर से कोचिंग के लिए निकला तो आरोपियों ने ठाकुर बाबा मंदिर के पास में युवक को दबोच लिया और उसके साथ जमकर मारपीट की जब युवक ने एसडीओपी को फोन लगाया तो एसडीओपी फोन नहीं उठाया लगातार एचडी से संपर्क करने का प्रयास करता रहा परंतु कोई सुनवाई नहीं हुई।

आरोपी युवक को पीट कर अपनी बाइक के लहराते हुए मौके से फरार हो गए इस बात की शिकायत करने फिर पीड़ित पक्ष कोतवाली पहुंचा तो वहां भी कोतवाली पुलिस ने महज अदम चेक की कार्रवाई कर चलता कर दिया इस पूरे घटनाक्रम के बाद हाथीखाना उत्सव समिति के सदस्यों में पुलिस के खिलाफ रोष व्याप्त हैं। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics