ऑनलाईन दवा बिक्री के विरोध में 28 को मेडीकल दुकानें रहेंगी बंद, किया जाएगा रक्तदान

शिवपुरी। ऑनलाईन दवा बिक्री के विरोध में ऑल इंडिया ऑर्गेनाईजेशन ऑफ कैमिस्ट एण्ड ड्रगिस्ट के आह्वान पर आगामी 28 सितम्बर को शिवपुरी शहर की सभी मेडीकल दुकानें बंद रहेगी। वहीं इस दिन मेडीकल हड़ताल होने के कारण मेडीकल एसोसिएशन द्वारा जिला चिकित्सालय में रक्तदान शिविर का आयोजन भी किया जाएगा। 

वहीं हड़ताल होने के कारण जनता को इमरजेंसी में मेडीकल सुविधा मिले इसे लेकर कैमिस्ट एसोसिएशन ने ड्रा निकाला और कपिल मेडीकल कमलागंज की दुकान खुली रहेगी। इसके अलावा कैमिस्ट एसोसिएशन की सभी दुकानें 27 सितम्बर की रात 12 बजे से 28 सितम्बर की रात 12 बजे तक मेडीकल इस ऑनलाईन दवा बिक्री के विरोध में हड़ताल पर रहेंगें। इस संबंध में एक ज्ञापन भी जिलाधीश के नाम सौंपा जाएगा। उक्त जानकारी कैमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष एमसी गुप्ता व सचिव डॉ.सी.पी.गोयल द्वारा संयुक्त रूप से दी गई। 

प्रेस को जारी विज्ञप्ति में अपना विरोध प्रदर्शन करने की जानकारी देते हुए कैमिस्ट एसोसिएशन के सचिव डॉ.सी.पी. गोयल ने बताया कि ऑल इंडिया कैमिस्ट एसोसिएशन द्वारा ऑनलाईन बिक्री के विरोध में पूर्व समय भी मेडीकल बाजार बंद रखा गया था, श्री गोयल ने बताया कि इंटरनेट पर दवा बिक्री को विनियमित करने का प्रयास है जिसका पूर्ण विरोध किया जाएगा, यह बड़े पैमाने पर आम जनता के स्वास्थ्य के लिए भी खतरनाक साबित हो सकता है, उन्होंने मांग की कि इस ओर ध्यान देना होगा कि ई-फॉर्मेसी की छोटी सी सुविधा के लिए भी यह अपूर्णीय नुकसान साबित होगा जिसमें कि ई-फॉर्मेसी की वकालत की जा रही है। 

डॉ.सीपी गोयल के अनुसार भारत बंद के मध्यप्रदेश में 28565 कैमिस्टों का यह बंद 27 सितम्बर की रात 12 बजे से शुरू होकर 28 सितम्बर तक रात 12 बजे तक जारी रहेगा। इस संबंध में पूर्व सूचना जिला प्रशासन को भी दे दी गई है। कैमिस्ट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष चन्द्रकुमार बंसल, सह सचिव नरहरि प्रसाद गर्ग, संयुक्त सचिव अभिषेक शर्मा, कोषाध्यक्ष अमन गोयल, प्रचार मंत्री पंकज गुप्ता आदि ने समस्त मेडीकल संचालकों से आह्वान किया है कि ऑनलाईन मेडीकल बिक्री के विरोध में एक दिन के लिए अपने प्रतिष्ठान बंद रख इस  भारत बंद को सफल बनाऐं। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics