दो पक्षों में विवाद: कुल्हाड़ी से काटा, पुलिस ने नहीं सुनी, SP के पास जाने लगे, पुलिस ने MM पर रोका रास्ता

शिवपुरी। खबर जिले के करैरा थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां ग्राम टीला में आज शाम जमीनी विबाद के चलते दो पक्षों में जमकर मारपीट हो गई। इस मामले में पीडि़त पक्ष शिकायत करने पुलिस थाना करैरा पहुंचा। तो पुलिस ने भी इनकी सुनवाई नहीं की। उसके बाद पीडि़त पक्ष उठकर शिवपुरी एसपी के पास पहुंचा। एसपी के पास पहुंचने से पहले ही करैरा थाने के कुछ पुलिस कर्मीयों ने एमएम अस्पताल के पास इनका रास्ता रोक लिया। 

जानकारी के अनुसार फरियादी पहलवान पुत्र लक्ष्मण लोधी अपने खेत में पौंधे लगा रहा था। तभी सियाराम पुत्र हरिज्ञान लोधी,शासकीय शिक्षक हरिज्ञान लोधी अपने साथी बल्देव लोधी,जानकीदास लोधी,गजेन्द्र लोधी और मेहरवान लोधी के जमीनी विबाद के चलते पीछे से कुल्हाड़ी से हमला बोल दिया। इस हमले में पहलवान ही पत्नि जामवती बीच बचाब में आई तो आरोपीयों ने उसपर भी हमला बोल दिया। 

पहलवान का आरोप है कि इस मामले की शिकायत करने वह करैरा थाने पहुंचे। तो वहां पुलिस ने इनकी सुनवाई नहीं की। आरोप है कि उसके बाद इस मामले की शिकायत एसपी से करने की बात कहकर फरियादी शिवपुरी आ गए। तभी करैरा थाने की पुलिस भी शिवपुरी आ गई और इनका रास्ता रोकते हुए एसपी के पास जाने से रोकने लगी। 

तभी वहां माजूद एक युवक ने इन पुलिस कर्मीयों का वीडियों बना लिया। जिसमें पुलिस कर्मी फरियादीयों को जाने से रोकते दिख रहे है। उसके बाद फरियादी एसपी कोठी पहुंचे और कोठी का घेराव किया। जब उक्त लोग एसपी कोठी पर पहुंचे एसपी सहाब बाहर थे। तत्काल कोतवाली टीआई विनय शर्मा मौके पर पहुंचे। और घायलों का मेडीकल कराकर मामले की जांच में जुट गए है। 

इनका कहना है-
एक ही परिवार के दो लोगों में जमींन को लेकर विबाद हुआ है। जिसमें दोनों पक्ष के लोगों को चोट आई है। एक पक्ष अस्पताल में भर्ती है जबकि दूसरा पक्ष भी अस्पताल पहुंच रहा है। चूंकि में आज हाईकोर्ट में पेशी होने के चलते ग्वालियर हूं। अब पुलिस ने नहीं सुनी इसका में पहुंचकर पता लगाता हूं। दोनों पक्षों पर कार्यवाही की जा रही है। 
प्रदीप बाल्टर,थाना प्रभारी करैरा। 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया