सिंध का पानी और खराब सडक़े बन सकती है इस विधानसभा में मुद्दा | Shivpuri news

शिवपुरी। शिवपुरी विधानसभा चुनाव में इस बार स्थानीय मुददे प्रभावी रहेंगें। जिनका जबाब सत्ताधारी दल और कांग्रेस और दोनो को देना होंगा। कांग्रेस को इसलिए नगर पालिका से ल्रेकर जनता पंचायत और जिला पंचायत का कांग्रेस का कब्जा है। शिवपुरी के स्थानीय मुददे कभी प्रभावी नही रहे लेकिन लग रहा है कि आने वाले विधानसभा चुनावो में स्थानीय मुददे राजनीतिक दलो की नाक में दम कर सकते हैं। और इनका जबाब उन्है देना पड़ेगा। खासकर युवा मतदाता राजनीतिक दलो से सवाल जबाब करने के पूरे मुड में आ रहा हैं। 

शहर क्षेत्र में सिंध जलावर्धन योजना का क्रियान्वयन न होना खराब सडके प्रदुषण,सीवेज खुदाई से जनता को परेशानी और ग्रामीण क्षेत्रो में पीएम आवास योजना में भ्रष्टाचार जैसे मुदद आने वाले विधानसभा चुनावो में उछल सकते हैं। 

शिवपुरी जिले की अन्य विधानसभाओ की तरह शिवपुरी विधानसभा क्षेत्र में भी विधानसभा चुनाव के मुददे कभी प्रभावी नही रहते हे इस विधानसभा क्षेत्र में सिंधिया परिवार का प्रभाव हैं। और देश ओर प्रदेश में चल रही लहरो से यह क्षेत्र अछूता रहता हैं। इस विधान सभा क्षेत्र मे आज तक विकास मुद्दा नही बन पाया लेकिन पिछले दस पन्द्रह सालो से इस क्षेत्र में विकास की जो उल्टी धारा बह रही हैं,उससे परेशान होकर मतदाता इस बार इन सवालो का जबाब मांग सकता हैं। 


जिससे शिवपुरी विकास की दौड में चलती हुइ प्रतीत हो सके। पिछले चुनाव में जनता को कांग्रेस और भाजपा दोनो दलो द्ववरा आस बंधाई गई थी कि शिवपुरी में सिंध जलावर्धन योजना का क्रियान्वयन जल्द से जल्द किया जाऐगा। सिंध जलावर्धन योजना 2009 से लंबित हैं और भी यह योजना पूर्व रूप से पूरी नही हो पाई है और घरो के नलो में सिंध का पानी नही निकला। 

महज 5 पानी की टंकियो को इस योजना से जोडा गया हैं। और शेष 11 टंकिया सिंध की लाईनो से जुडना बाकी हैं। शहर में वितरण लाईन भी नही डाली गइ हैं। इस गर्मी में जनता ने जलसंकट से संघर्ष किया है उसे लिखा नही जा सकता हैं। 

मतदाता ने विधानसभा में भाजपा और नपा के चुनाव में कांग्रेस को जिताया,लेकिन उसके बाद भी सिंध मैया नला से प्रकट नही हुई,खराब सडके भी एक बडी समस्या हैं,हालाकि सीवर खुदाई से छतिग्रस्त हुई कुछ सडको का निर्माण विधायक राजे ने रूचि लेकर कराया,लेकिन पेच ऐसा फसा कि शहर के 5 प्रमुख सडके अभी भी नही बन सकी हैं। 

इसमें से कोर्ट रोड जो कि शिवपुरी की जीवन रेखा हैं, उसके न बनने से नागरिक बहुत परेशान हैं। सीवेज की खुदाई ने शहर की जनता को बहुत रूलाया है,शहर में बडता अतिक्रमण और गंदगी भी एक समस्या हैं। और कांग्रेस शसित नपा ने शिवपुरी के विकास,सुदरता और स्वच्छता के मामले में शून्य रही है,जिसका दंड जनता कांग्रेस को दे सकती हैं। ग्र्रामीण क्षेत्रो के हालत और भी खराब है। गांवो में विकास के कोई अधिक काम भी नही हुए हैं। पीएम आवास योजना में भ्रष्टाचार एक बड़ा मुद्दा हैं। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics