PM आवास नरवर: 1 करोड़ रिश्वत वसूली कांड की शिकायत | NARWAR NEWS

शिवपुरी। प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों से 1 करोड़ से ज्यादा की रिश्वत वसूली का मामला सामने आया है। पीड़ित हितग्राहियों के एक समूह ने शिकायत प्रस्तुत की है। हितग्राहियों ने करैरा एसडीएम उदस सिंह सिकरवार को लिखित में बताया है कि किस्त जारी करने के एवज में नरवर नगर परिषद के क्लर्क 30 हजार रुपए प्रति हितग्राही रिश्वत की मांग कर रहे हैं। यहां कुल 380 हितग्राही हैं। यदि शिकायत को आधार मान लिया जाए तो यह 1 करोड़ से ज्यादा की रिश्वत वसूली का मामला है। यहां उन सभी हितग्राहियों के प्रकरण निरस्त कर दिए गए जो रिश्वत देने के लिए तैयार नहीं थे। 

शिकायतकर्ताओं ने ने आवेदन में कहा है कि नगर परिषद नरवर द्वारा पीएम आवास योजना की 380 नामो की तीसरी सूची जारी की है। जिसमें दर्जनो आपात्रों को लाभ दिया जा रहा है। अपात्रों को पात्रों से पहले किशत जारी की जा रही है। इसमें भारी भ्रष्टाचार किया है। हितग्राहियों का कहना है कि जब जारी सूची में नाम आने के बाद किश्त जारी करने का समय आया तो परिषद के कर्मचारी पहली किश्त जारी करने के ऐवज में 30 हजार रूपए की डिमांड कर रहे है। और धमकी दी जा रही है कि अगर पैसा नही दिया तो सूची में से नाम हटाकर दूसरे का नाम जोड दिया जाऐगा। 

आवेदन में लिखा गया है कि इस सूची में 380 नामों की लिस्ट जारी की थी लेकिन परिषद के कर्मचारियों ने केवल 135 लोगों की सूची एसडीएम के समक्ष जारी की है। अगर इन शिकायतकर्ताओं की बात सही है और पहली किश्त में 30 हजार की भेट मांग रहे तो पीएम आवास योजना की मिलने वाली ढाई लाख की रााशि में हितग्राही के 50 हजार रूपए रिश्वत में जाऐगें तो हितग्राही को केवल ढाई लाख रूपए ही मिल रहे है। 

इनका कहना है
हां मेरे पास पीएम आवास योजना की पहली किश्त डालने के एवज में रिश्वत मांगने की शिकायत आई है। 135 हितग्राहियों के नाम निरस्त किए है। अब इसके बाद पात्र हितग्राहियों को एक साथ पूरी पारदर्शिता के साथ पैसा डाला जाऐगा, जिन कर्मचारियों के खिलाफ शिकायत है उनकी जांच कर कार्रवाई की जाऐगी।  

Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics