Ad Code

एक्सीडेंट में शिक्षिका की मौत: मासूम बोले मां उठों मामा के यहां जाना है | kolaras

शिवपुरी। खबर जिले के कोलारस अनुविभाग के लुकवासा-बदरवास क्षेत्र की है। जहां बीते रोज एक महिला शिक्षक अपने देवर के साथ स्कूल से संकुल पर संबिलियन के दस्तावेज जमा कराने जा रही थी। तभी रास्ते में एक अज्ञात वाहन ने उनकी बाईक सबार भाभी और देवर को उडा दिया। इस हादसे में महिला शिक्षक की मौत हो गई। इस दौरान शिक्षिका का भाई रक्षाबंधन के लिए अपनी बहिन को अपने घर ले जाने के लिए बैठा रहा। इस दौरान एक और घटना हुई। इस मृतिका शिक्षक के यहां गमी ने आए मामा के सूने घर को चोरों ने निशाना बना डाला। 

जानकारी के अनुसार बीते रोज शिक्षिका साधना पत्नि कपिल सिंघल उम्र 29 साल निवासी घुरवार रोड़ बदरवास शासकीय स्कूल गढ़ में शिक्षिका थी। बीते रोज शिक्षिका साधना अपने भाई को अपने घर पर बिठाकर कहकर आई कि भाई तुम घर पर ही रूकना में अभी स्कूल जा रही हूं। उसके बाद संकुल पर जाऊंगी। उसके बाद लौटकर आपके साथ घर चलूंगी। और शिक्षिका अपने देवर सहदेव के साथ निकल गई। 

स्कूल से पढाने के बाद शिक्षिका अपने देवर के साथ संकुल बदरवास के लिए निकली। तभी बूढ़ा डौगर के पास किसी अज्ञात वाहन ने शिक्षिका को उड़ा दिया। जिससे शिक्षिका की मौत हो गई। इस दौरान सबसे मार्मिक दृष्य पीएम हाउस पर देखने को मिला। मासूम के दो बच्चे इक्षित और काव्या मा से लिपकर बोलने लगे। मां उठ जाओं आपने बोला था कि हम स्कूल से लौटकर मामा के यहां चलेगें। तो अब उठ जाओं और मामा के यहां चलो। मासूमों के इन शब्दों को सुनकर वहां उपस्थिति लोग अपने आशूं नही रोक पाए। 

इधर मामला के घर को चोरों ने बनाया निशाना
कहते है कि जब बुरा समय आता है तो वह पल्लू थामकर पीछे पड़ ाता है। ऐसा ही बाक्या इस घटना में देखने को मिला। महिला शिक्षक की मौत के बाद महिला के मामा आनंद जैन निवासी खतौरा महिला की अंत्येष्टि में शामिल होने पूरे परिवार सहित खतौरा से बदरवास पहुंचे। तभी परचूने की दुकान चलाने बाले आंनद जैन के घर को सूना देखकर चोरों ने घर में धावा बोल दिया। चोरों ने घर में रखे सोने चांदी के सामान सहित नगदी पार कर दी। इसमें चोरों ने लगभग 60 हजार रूपए के माल पर हाथ साफ कर दिया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।