दोशियान का सहयोग करने वाले अधिकारीयों और कर्मचारीयों पर भी दर्ज होगी FIR

शिवपुरी। भाजपा पार्षदों के नगर अध्यक्ष भानू दुबे के नेतृत्व में बीते रोज एक ज्ञापन जिलाधीश को दिया गया इसी के तारतम्य में नगर पालिका परिषद व्यापक सम्मेलन आहुत किया गया जिसमेंं एक मत से कार्रवाई के लिए सहमति बनी और कहा कि पिछले नौ साल से शहर को पानी के नाम पर छल रही और सरकार को लगभग 100 करोड़ रूपये का चूना लगाने वाली सिंध जलावर्धन योजना की क्रियान्वयन एजेन्सी दोशियान के खिलाफ आज लम्बे समय के बाद एकमत दिखे पार्षदों ने राजनीति को त्यागकर दोशियान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का सख्त निर्णय लिया है। 

परिषद ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि बर्दाश्त की अब हद हो गई और दोशियान को बर्खास्त किया जाए। यह भी तय किया गया कि दोशियान और नगर पालिका के उन अधिकारियों तथा कर्मचारियों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कराई जाए जिन्होंने अनियमित तरीके से दोशियान को भुगतान किए हैं। दोशियान को काली सूची में डाले जाने की अनुशंसा परिषद ने नगरीय प्रशासन विभाग के ईएनसी से की है वहीं दोशियान की एफडीआर और बैंक गारंटी को जप्त करने का भी निर्णय लिया गया। मुख्य नगर पालिका अधिकारी को यह भी निर्देशित किया गया कि वह दोशियान के दफ्तर से योजना से संबंधित कागजात, दस्तावेज और नगर पालिका के संसाधनों को अपने कब्जे में लें। 

विदित हो कि दोशियान के मुद्दे पर विचार विमर्श करने के लिए भाजपा पार्षदों ने विगत सप्ताह कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा था जिसके तारतम्य में नगर पालिका अध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह और सीएमओ गोविन्द भार्गव ने आज छह अगस्त को परिषद का विशेष व्यापक सम्मेलन आहूत किया। परिषद ने बैठक में सभी पार्षदों ने दोशियान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने पर सहमति व्यक्त की। इनमें भाजपा पार्षदों के अलावा नगर पालिका अध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह और उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा भी शामिल थे। परिषद में दोशियान का बचाव किसी ने भी नहीं किया। इसके बाद नपा उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा ने दोशियान के खिलाफ कार्रवाई के लिए ड्राफ्ट तैयार किया और उस ड्राफ्ट पर सभी पार्षदों ने सहमति व्यक्त कर दी। 

नगर पालिका प्रांगण में ही घूमते रहे दोशियान के प्रबंधक 
नगर पालिका परिषद के आज के सम्मेलन को लेकर दोशियान प्रबंधन में घबराहट का माहौल था। परिषद इस मुद्दे पर क्या निर्णय लेगी इस पर दोशियान की नजरें केन्द्रित थीं। सम्मेलन के पूर्व ही दोशियान के महाप्रबंधक महेश मिश्रा और पेटी कॉन्ट्रेक्टर कांग्रेस नेता खलील खान परिषद भवन के बाहर खड़े होकर पूरी जानकारी लेते रहे। 

परिषद में भाजपा पार्षद खन्ना और कांग्रेस पार्षद इस्माइल भिड़े
आज के विशेष सम्मेलन में महज दोशियान मुद्दे पर ही विचार किया जाना था, लेकिन परिषद का सम्मेलन जैसे ही शुरू हुआ वैसे ही भाजपा पार्षद डॉ. विजय खन्ना ने आक्रामक स्वर में कांग्रेस पार्षद इस्माइल खान पर हमला बोल दिया। उन्होंने जोर-जोर से कहा कि चीलौद पानी की टंकी पर एक व्यक्ति विशेष का कब्जा है। इस पानी की टंकी से पांच वार्डों में पानी की सप्लाई होनी थी, लेकिन इसे पाकिस्तान बना दिया गया है और एक विशेष वार्ड के लोगों का इस पर कब्जा है। इस पर पार्षद इस्माइल खान भी उठ खड़े हुए और कहा कि आप किस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हो, हमने पाकिस्तान बना दिया है उनके बचाव में पार्षद जरीना शाह के पति भी खड़े होकर आपत्ति व्यक्त करने लगे।

डॉ. विजय खन्ना के बचाव में भाजपा पार्षद आए और कहा कि बाद में अन्य समस्याओं पर विचार कर लेना पहले तो दोशियान के खिलाफ कार्रवाई पर चर्चा हो जाए। वहीं वार्ड क्रमांक 4 की पार्षद वर्षा गुप्ता के पति पूर्व पार्षद संजय गुप्ता ने परिषद में कहा कि जो नई एजेन्सी सिंध जलावर्धन योजना का काम करेगी उसे चाहिए कि पूरे शहर और वार्ड में वह बैनर, पोस्टर और होर्डिंग लगाए जिसमें बताया जाए कि इस वार्ड का काम कब तक पूरा होगा ताकि शहर की जनता को यह पता चल सके कि उन्हें पानी कब तक मिलने वाला है। इससे जनता से होने वाले छलावे को भी रोका जा सकेगा। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics