भ्रष्टाचार में फंसते मुन्ना लाल परिषद की बैठक छोड भागेे | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। अभी-अभी खबर आ रही है कि नगर पालिका अध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह पर आज फिर नियमविरूद्ध कार्य करने और भ्रष्टाचार करने का आरोप लगा है। आज शिवपुरी निकाय के भाजपा के पार्षद भानू दुबे के नेतृप्व में पार्षदों ने कलेक्टर की जनसुनवाई में इस मामले की शिकायत की। आरोप लगाया कि परिषद के ऐजेंड के बिन्दुओं को तानाशाह तरीके से पास दिया जब भाजपा पार्षदों ने मुन्नालाल को घेरा तो वह परिषद की बैठक से भाग गए। 

यह है मामला 
16 जुलाई को नपा में परिषद की बैठक बुलाई गई थी, वह स्थगित हो गई, इस स्थागित हुई मीटिंग को आज बुलाया गया। इस मीटिंग में शहर के निर्माण कार्य सहित अन्य कामों के ऐजेंडे को मीटिंग में रखा जाना था। बताया गया है कि इस ऐजेंडे में कुल 25 बिंदु थे। इन सभी बिन्दुओं पर क्रमवार चर्चा करनी थी लेकिन इन बिन्दुओं पर चर्चा आज परिषद में नही कि गई। 

बताया जा रहा है कि इस ऐजेंडेे के बिन्दु क्रमांक 4 में 10 नंबर वार्ड में 35 लाख की लागत से सीसी रोड डालने का प्रस्ताव था। वहीं इसी ऐजेंडे के बिन्दु क्रमांक 5 में 13 नंबर वार्ड में 25 लाख की लागत से सीसी रोड डालने का प्रस्ताव रखा गया था। भाजपा पार्षदों ने ऐजेंडे के इन बिन्दुओं पर अपत्ति उठाई और कहा कि सारे शहर का विकास करना है, इन्ही दो वार्डो में ही क्यों सीसी स्वीकृत की जा रही है।

अपत्ति का क्रम चल ही रहा था अभी ऐजेंडे के बिन्दु क्रमांक 5 पर ही चर्चा हो रही थी कि तभी मुन्नालाल उठे और सभी 25 बिन्दुओ का बिना चर्चा के पास कर दिया और तानाशाह स्टाईल में बोले की मैने पास कर दिए है अब किसी भी बिन्दु पर चर्चा की आवश्यकता नही है। बताया गया है कि इस ऐजेंडे में बिन्दु 1 से ही नियम विरूद्ध थे 5 बिन्दु तक आते-आते मुन्नालाल के भ्रष्टाचार की पोल खुलने लगी और पार्षदों के सवालों के जबाब नही दे सके। इस कारण मुन्नालाल ने ऐसा किया। 

इस ऐजेंडे में 2 साल पूर्व बिना टेंडर के बन कर खडा हो चुका महाराणा प्रताप कॉलोनी का वह गेट भी था। इसकी दर स्वीकृत की जा रही थी। मतलब नियमों को बिलकुल ही ताक पर रखा जा रहा था। गेट बनकर कभी का तैयार हो गया और अब उसकी रेट स्वीकृत कर टेंडर लगाए जाऐंगें फिर कागजों में उसे पुन: बनाया जाता। 

इस बात का विरोध कर रहे भाजपा पाषर्द सभी एकत्रित होकर जनसुनवाई में कलेक्टर के पास पहुचे गए और कलेक्टर में गली-गली में शोर है और मुन्नालाल कुशवाह चोर है कि नारे लगाने लगे। कलेक्टर शिल्पा गुप्ता ने इस मामले को समझते हुए, तत्काल नपा के एई आरडी शर्मा को बुलाआ और परिषद के ठहराव प्रस्ताव के रजिस्टर को मंगाकर कलेक्टर ने देखा तो इसमें कई गड़बड़िया मिलीं। आज की कोई भी कोई भी प्रोसिडिंग नही लिखी मिली। 

कुल मिलाकर आज मुन्नालाल कुशवाह की भ्रष्ष्टाचार की एक नई गाथा समाने आई है। अपनी मनमर्जी और चहेते पार्षर्दो को लाभ देने के लिए सभी नियमों को ताक पर रख दिया जाता है। बताया जा रहा है कि इस पूरे काण्ड के पीछे मुन्ना का मुन्ना है, इन सभी सीसी रोडों में उसकी साईलेंट पार्टनर शिप है। 

इनका कहना है
नगर पालिका में सभी काम नियम विरूद्ध तरीके से हो रहे है, आज जो नपा अध्यक्ष ने किया है वह नियम विरूद्ध है और सीधे-सीधे तानाशाही है, इसकी शिकायत हमने कलेक्टर शिवपुरी से की है। और उन्होने हमे इस मामले की जांच कर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है
भानु दुबे मंडल अध्यक्ष शिवपुरी वार्ड क्रमांक 38 पार्षद 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics