महिलायें किसी से कम नही: महिला सशक्तिकरण के कार्यक्रम में बोले सिंधिया

शिवपुरी। महिला कांग्रेस द्वारा आयोजित महिला सशक्तिकरण एवं बालिका प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अथिति गुना शिवपुरी के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया थे । महिला सशक्तिकरण एवं बालिका प्रतिभा सम्मान समारोह की आयोजक  महिला कांग्रेस की नवनियुक्त अध्यक्ष श्रीमती शशि शर्मा थी।  कार्यक्रम के मुख्य अथिति ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सभी महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि अब समय आ चुका है कि देश की महिलाएं  चूल्हा चौका छोड़ कर हर क्षेत्र में आगे आएं और खुद को सशक्त बनाए उन्होंने कई महिलाओं का उदाहरण देकर बताया जिन महिलाओं ने न केबल अपने शहर का , न केबल अपने प्रदेश का बल्कि पूरे भारत देश का नाम रोशन किया। इस अवसर पर सांसद सिंधिया प्रतिभावान 31 बालिकाओं सम्मान किया जिन्होंने कक्षा 10 और 12 वीं में 90 प्रतिशत से अधिक अंक हांसिल स्वयं के साथ-साथ माता-पिता का नाम रोशन किया है। 

कार्यक्रम में उपस्थित महिला कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष वन्दना मांडरे ने भी अपने उद्धवोदन में कहा कि अब महिला पुरुषों से कम नही है आज नारी शक्ति पुरुषों के समान ही हर कार्य में दक्ष है । महिला कांग्रेस की अध्यक्ष श्रीमती शशि शर्मा ने कहा कि हम उस देश। की नारी है जिस देश में नारी को शक्ति के रूप में पूजा गया इसलिए नारी कमजोर नहीं लेकिन बर्तमान में जो छोटी छोटी बच्चियों के साथ बिभिन्न शहरो में जो अनैतिक कार्य हुआ उस से ऐसा लगता है कि बर्तमान मेमहिलायें एवं बच्चियां सुरक्षित नही है । 

कार्यक्रम का शानदार संचालन रूचि जैन ने किया । इनके अतिरिक्त कार्यक्रम में पूर्व महिला कांग्रेस की अध्यक्ष नीलू शुक्ला , उषा भार्गव , पूर्व पार्षद तृप्ति गौतम , पूर्व पार्षद , वंदना शिवहरे , पूर्व पार्षद दीपशिखा शर्मा , मोना शुक्ला , रंजना शर्मा, श्रीमती मुकेश गुप्ता , संगीता जैन , आकांक्षा गौड़ , अनीता राजपूत , ज्योति खंडेलवाल , के अलावा सैकड़ों महिलायें उपस्थित थी  पूरा हॉल महिलाओं से खचाखच भरा हुआ था । कार्यक्रम की भब्यता देख श्रीमंत जयितिरादित्य सिंधिया गदगद हो गए और इस सफल कार्यक्रम के लिए श्रीमती शशि शर्मा को बधाई देकर गए। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics