प्राईवेट स्कुलों से पीछे नही रहे सरकारी छात्रावास के छात्र, बोर्ड परीक्षा में रहे अव्वल

शिवपुरी। जनजाति कार्य विभाग द्वारा अनुसूचित जाति, जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्रों की लगन, मेहनत एवं अधीक्षकों का सही मार्गदर्शन और राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई बेहतर सुविधाए के साथ छात्रावास में मिले शिक्षा के बेहतर वातावरण के कारण जिला स्तरीय बालक उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र (छात्रावास) में अध्ययनरत हाईस्कूल के छात्रों का वर्ष 2018 का वार्षिक परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत रहा है। जिला स्तरीय बालक उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र शिवपुरी में अध्ययन कर रहे अनुसूचित जाति नोहरीकलां के छात्र सोनू मौर्य ने बताया कि उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र के माध्यम से उन्हें पढ़ाई एवं कोचिंग की पूरी सुविधा मिली है। अधीक्षक आर.सी.दिवाकर के मार्गदर्शन एवं शासन द्वारा दी जाने वाली सुविधा तथा उनकी मेहनत के कारण उन्हें हाईस्कूल की बोर्ड परीक्षा में 95.2 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रवीण्य सूची में स्थान प्राप्त किया है। 

उनका कहना है कि अगर हम शिक्षा केन्द्र (छात्रावास) में नहीं रहते तो इतने अधिक अंक प्राप्त नहीं कर पाते। वह आगे की पढ़ाई कर आईएएस की परीक्षा उत्तीर्ण कर समाज की सेवा कर अपने किसान पिता का नाम रोशन करना चाहते है। इसी संस्था में गांव सलैया का रहने वाले छात्र  सुनील जाटव ने हाईस्कूल परीक्षा 2018 में 94.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर उत्तीर्ण की है, वे इंजीनियर बनकर लोगों की सेवा करना चाहते है। 

गांव नोहरी के  मोहित जाटव ने 93.2 प्रतिशत और इंदार के धर्मेन्द्र जाटव ने 91.8 अंक प्राप्त कर महाविद्यालय में प्रोफेसर बनकर सेवा देना चाहते है। कांकर सतनवाड़ा के प्रदीप जाटव ने 91 प्रतिशत अंक प्राप्त किए जो इंजीनियर बनना चाहते है। ग्राम मागरोल के नीरज जाटव 90.2 प्रतिशत अंक प्राप्त कर वैज्ञानिक बनकर देश की सेवा करना चाहते है।  

ग्राम विनेगा के 87.4 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले मनीष जाटव मध्यप्रदेश लोक सेवा की परीक्षा उत्तीर्ण कर प्रशासनिक अधिकारी बनकर लोगों की सेवा करने का इरादा है। इंदार के श्री अर्जुन जाटव ने 84 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। इसी प्रकार इन छात्रावास में रहने वाले ग्राम बेदमऊ के छात्र माखन आदिवासी ने 76 प्रतिशत और कुमरूआ खनियांधाना के छात्र बंटी लोधी ने 62 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। 

जिला स्तरीय बालक उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र शिवपुरी के प्रभारी श्री आर.सी.दिवाकर ने बताया कि वर्ष 2018 में कक्षा 12वीं तक के जिला स्तरीय बालक उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र में रहने वाले सभी 49 छात्रों ने परीक्षाए उत्तीर्ण की। वहीं 43 छात्रों ने प्रथम श्रेणी और 6 छात्रों ने द्वितीय श्रेणी में परीक्षा उत्तीर्ण की है। इस केन्द्र में कक्षा 12वीं के अध्ययनरत 15 छात्रों में से 14 छात्रों ने प्रथम श्रेणी में और एक छात्र ने द्वितीय श्रेणी में परीक्षा उत्तीर्ण की है। इस संबंध में विद्यार्थी आर.सी.दिवाकर के दूरभाष 9826628317 पर संपर्क कर सकते है।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics