15 आंगनवाड़ी कार्यकताओं एवं सहायिकाओं का मानदेय होगा राजसात,1 की सेवा समाप्त

शिवपुरी। आंगनवाड़ी केन्द्रों के संचालन में लापरवाही एवं उदासीनता बरतने के आरोप में महिला एवं बाल विकास विभाग नरवर की 15 आंगनवाड़ी कार्यक्रर्ता एवं सहायिकाओं का 7 दिन का मानदेय राजसात, दो समूहों के अनुबंध निरस्त करने एवं एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की सेवाए समाप्त करने का प्रस्ताव वरिष्ठ कार्यालय को भेजा गया है।

प्रभारी परियोजना अधिकारी श्रीमती अनीता श्रीवास्तव ने बताया कि उनके एवं सेक्टर पर्यवेक्षकों द्वारा निरंतर निरीक्षण के दौरान स्वसहायता समूहों द्वारा लगातार लापरवाही बरते जाने के कारण चिरली की श्रीमती भवना खटीक, खुदावली की श्रीमती सीमा श्रीवास्तव, सैमई की  मडैयां की श्रीमती पुष्पा विश्वकर्मा, छितरी की श्रीमती नीतू राजपूत, रमगढ़ा की श्रीमती कुसुम भार्गव, वार्ड 01 नरवर की श्रीमती लक्ष्मी कुशवाह, वार्ड नम्बर 09 नरवर की श्रीमती अफरोज खांन, बरौआ की श्रीमती ऊषा सोलंकी, बहगवां श्रीमती ऊषा भार्गव, नंदपुर श्रीमती ममता लोधी। 

बमरौली श्रीमती सुमन, खुदावली श्रीमती मीरा झा, सैमई की मडैया श्रीमती शशि कर्ण, फूलपुर की श्रीमती सरोज का मानदेय राजसात करने की कार्यवाही की है। इसके साथ ही शंकर स्वसहायता समूह का संचालन अध्यक्ष एवं सचिव के अतिरिक्त किसी अन्य व्यक्ति द्वारा किए जाने तथा महारानी लक्ष्मी बाई स्वसहायता समूह द्वारा नाश्ता एवं खाना देने में लगातार लापरवाही बरते जाने पर अनुबंध निरस्त करने की कार्यवाही की गई है और नरवर नगरीय क्षेत्र में वार्ड नम्बर 12(2) की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कु.लॉरेन्स सुमन द्वारा बार-बार लापरवाही बरती जाने पर सेवाए समाप्त करने की कार्यवाही की गई है।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics