बारातियों का स्वागत लठ्ठ से, थाने में पहुंची बारात, बिना दुल्हन लौटी

शिवपुरी। ईसागढ के ग्राम मुससयावदा से एक बारात बदरवास जनपद के टुडयावाद ग्राम के पीरहार में पहुंची इस बारात का स्वागत चाय पानी नाश्ते की जगह लठ्ठो से किया गया। इस बारात को जनमासे की जगह पुलिस थाना परिसर में रात काटनी पडी। बारातीयो ने अपनी पूरी ताकत लगा दी लेकिन दुल्हन नही ले जा सके। बताया गया है कि 72 घटें के तमाशे के बाद भी यह बारात दुल्हन बिना ही रूकसत हुई। 
जानकारी के अनुसार बदरवास के ग्राम पीरहार में रहने वाली राजकुमारी पुत्री रतीराम आदिवासी की शादी ईसागढ के हल्के पुत्र शिवलाल आदिवासी के साथ 11 मई को शादी होना तय हुई थी। शादी के कार्ड भी छप चुके थे और रिश्तेदारी भी बाराती बनकर दूल्हे के साथ शुक्रवार की शाम को बदरवास पहुंचे। दूल्हा बने हल्के ने बताया कि जब हम बारात लेकरह पीरहार गांव पहुंचे तो वहां हमारा स्वागत तो नही किया बल्कि लठ्ठ लेकर हमारा इंतजार करते मिले। जब हमने पूछा कि शादी क्यो नही की जा रही,तो उन्होने न कोई कारण बताया और न ही शादी के लिए सहमति जताई। 

बताया जा रहा है कि जब बरातियो ने अपने आप को असुरक्षित महसूस किया तो किसी ने डायल 100 को कॉल कर दिया। पूरी बारात लडकी की चौखट से उठकर बदरवास थाने आ पहुंची। पुलिस ने भी दो परिवारो के इस मामले में हस्तक्षेप नही किया। उसी रात समाज की बैठक बुलाई गई। समाज की बैठक भी कोई नतीजा नही निकाल सकी। दूल्हा भी बिना अपनी दुल्हन के वापस जाने को तैयार नही था। 

दूल्हे के पिता का शिवलाल आदिवासी का कहना था कि आज से 2 माह पूर्व लडकी का पिता मेरे घर आया था तथा लडके को देखकर गया था इसके बाद विधिवत फलदान भी हुआ। पीली चिठ्ठी भी मेरे घर आई शादी के पूरे कार्यक्रम पूरे विधि विधान के साथ सम्पन्न किए गए।

जब में अपने बेटे की बारात लेकर लडकी वाले के घर आया तो मेरा ओर मेरे रिश्तेदारो का स्वागत लठ्ठो से किया गया। समाज की बैठक में कोई नतीजा नही निकला और अत: तीन दिन बाद दुल्हा बिन बारात के लौट गया। इस पूरे मामले में यह स्पस्ट  नही हो सका कि लडकी पक्ष की ओर से ऐसा क्यो किया गया। 

इनका कहना है
मै गांव गया था लेकिन लडकी के पिता ने किसी भी प्रकार के रिश्ते की बात को इंकार किया गया है। साथ में यह भी कहा गया है कि लडके वाले जबरिया दबाव डलवाकर शादी करना चाह रहे है। हम इस पूरे मामले की जांच कर रहे है कि आखिर ऐसा क्यो हुआ है। 
रामेश्वर शर्मा,एसआई थाना बदरवास 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया