जनसुनवाई: सीएमएचओ ने कर दिया एस्टीमेट निरस्त, मजदूर माता-पिता नहीं करा पा रहे बच्ची का इलाज

शिवपुरी। प्रति मंगलवार को आयोजित होने वाली जनसुनवाई कलेक्ट्रेट में आयोजित की गई। जनसुनवाई में विभिन्न् विभागों के अधिकारी मौजूद थे जहां उन्होंने लोगों की समस्याओं को सुना और उनका निराकरण भी किया गया। फक्कड़ कॉलोनी वार्ड नं. 38 में रहने वाली बिंदू जाटव व लखन जाटव ने बताया कि उसकी 4 वर्षीय पुत्री राधिका जाटव मूक बधिर है। उन्होंने अपनी बच्ची का इलाज हर जगह कराया परंतु परीक्षण के बाद डॉक्टरों द्वारा कॉकलियर इम्प्लांट सर्जरी की बात कही। इसके लिए 6 लाख 50 हजार का एस्टीमेट जारी किया गया है। इसके लिए उन्होंने राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत आर्थिक सहायता स्वीकृत करवाने के लिए सीएमएचओ के समक्ष सभी आवश्यक दस्तावेज 26 अप्रैल 2017 को दिए थे परंतु आवेदन अस्वीकृत कर दिया गया तथा आर्थिक सहायता नहीं दी गई। 

दबंगों ने हड़प ली जमीन, वापस दिलवाओ
इस दौरान ग्राम मोहनगढ के रहने वाले सिरदार पुत्र चंदना आदिवासी ने जनसुनवाई में गुहार लगाते हुए कहा कि साहब..! मेरी जमीन मोहनगढ़ में हैं। यहां एक दबंग पप्पी ठाकुर ने जबरन कब्जा कर लिया है और उसे अपनी जमीन बता रहा है। जब उससे जमीन वापस मांगी जाती है तो उसे जान से मारने की धमकी दी जा रही है और दंबग द्वारा कहा जाता है कि वह उसे गांव से निकलवा देगा। इसलिए दबंग से जमीन को मुक्त कराकर उसे वापस दिलाया जाए और दबंग पर कार्रवाई की जाए। 

झोंपड़ी हटी तो बीबी-बच्चे सड़क पर आ जाएंगे
वार्ड क्रमांक 1 ठकुरपुरा में रहने वाले लक्ष्मणसिंह पुत्र बाबूलाल खटीक ने मंगलवार को जनसुनवाई में अध्ािकारियों के समक्ष गुहार लगाई कि आए दिन उसके घर अधिकारी पहुंच रहे हैं और उससे झोंपड़ी हटाने की कह रहे हैं। पूछे जाने पर कहा जाता है कि उसकी झोंपड़ी अतिक्रमण में है अगर नहीं हटाई तो वह उसे तोड़ देंगे। खटीक ने कहा कि वह यहां 10 साल से निवास कर रहा है। अगर उसकी झोंपड़ी टूटी तो उसके बीबी-बच्चे सड़क पर आ जाएंगे तथा आर्थिक स्थिति भी अच्छी नहीं है। अत: झोंपड़ी को न हटाया जाए। 

कॉलेज में गुंडागर्दी के विरोध में एसपी सौंपा ज्ञापन
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद एवं छात्रसंघ ने सोमवार को महाविद्यालय में जो छात्रसंघ सचिव के साथ जो मारपीट हुई थी उसके विरोध में जमकर नारेबाजी की एवं महाविद्यालय प्रशासन व एसडीओपी को ज्ञापन सौंपा। छात्रसंघ ने मामला दर्ज कराने के बाद महाविद्यालय में गुंडागर्दी व माहौल खराब करने वाले लोगों को महाविद्यालय में प्रतिबंधित करने एवं गिरफ्तारी की मांग की। इसके साथ ही छात्र रिषभ करोसिया को तुरंत बर्खास्त एवं अन्य बाहरी असामाजिक तत्व आशीष बिंदल एवं विपिन पवार को गिरफ्तार करने भी मांग की। 

Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics