उपचुनाव: कांग्रेस की धाकड़ों ने बचाई लाज, यादव पोलिंगों में हुआ भितरघात

शिवपुरी। कोलारस विधानसभा के उपचुनाव के आकंडे काफी चौंकाने वाले आए है। इसमें कांग्रेस ने इस सीट को बचा तो लिया, लेकिन उम्मीद के हिसाब से जादूई आकंडा नही छू पाई। इस चुनाव में कांग्रेस की धाकड़ों ने लाज रख ली, यादव बैल्ट में सघंर्ष कड़ा हुआ है। पिछले चुनाव में कांग्रेस ने भाजपा को 25 हजार मतों से पटकनी दी थी, इस बार बसपा के मैदान में न होने पर भी 8 हजार की जीत मिली है, पिछले चुनाव से 13 हजार मतों का नुकसान हुआ है। अगर इस चुनाव में बसपा होती तो नतीजे कुछ ओर भी हो सकते थे। 

इस विधानसभा क्षेत्र के जो पोलिंग वाईज आंकड़े निकलकर सामने आए हैं वह कांग्रेस और भाजपा दोनों दलों के लिए चौंकाने वाले हैं। भाजपा को जहां मजबूत बढ़त की आशा थी और उसी आधार पर वह विजय का दावा कर रही थी, लेकिन भाजपा को कोलारस मंडल में वह बढ़त नहीं मिल पाई बल्कि उसे धाकड़ और रावत बाहुल्य पोलिंगों के बावजूद 5 हजार मतों से पराजय का सामना करना पड़ा।

कांग्रेस को सबसे ज्यादा आशा बदरवास मंडल से थी, क्योंकि यहां के 106 पोलिंग बूथों में से लगभग 60 यादव बाहुल्य हैं, लेकिन यादव बाहुल्य पोलिंग बूथों में कांग्रेस को काफी कड़े संघर्ष का सामना करना पड़ा। टुडय़ावद जहां कि कांग्रेस प्रत्याशी महेंद्र यादव की ससुराल है वहां से कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा। 

बदरवास मंडल में कांग्रेस गिरते पड़ते लगभग 1500 मतों से विजयी हुई और रन्नौद मंडल में भी कांग्रेस की विजय का अंतर लगभग इतने ही मतों का रहा। 

कोलारस विधानसभा क्षेत्र के पिछले चुनाव में भाजपा को कोलारस मंडल से 12 हजार 500 तथा रन्नौद और बदरवास मंडल से भी लगभग इतने ही मतों से पराजय मिली, लेकिन तुलनात्मक रूप से उपचुनाव में हार के बावजूद भाजपा का प्रदर्शन बेहतर रहा। 

कोलारस मंडल में उसने अपनी हार का अंतर 12 हजार 500 से घटाकर 5 हजार मतों तक सीमित रखा। वहीं रन्नौद और बदरवास मंडल में उसने कोलारस मंडल से भी अच्छा प्रदर्शन किया। इन दोनों मंडलों में भाजपा के मतों में काफी बढ़ोत्तरी हुई और 12 हजार 500 मतों का अंतर घटाकर 3 हजार मतों तक सीमित कर दिया। 

कोलारस नगर में जहां भाजपा को अच्छी उम्मीद थी वहां उसने 22 मतों से कांग्रेस पर बढ़त प्राप्त की। कोलारस में भाजपा को जहां 4949 मत मिले वहीं कांग्रेस प्रत्याशी महेंद्र यादव अपेक्षाकृत अधिक 4 हजार 927 मत ले गए। कोलारस मे भाजपा को वैश्य और ब्राहमण मतदाताओं का वह समर्थन नहीं मिला जो उसने आशा की थी। 

बदरवास में नगर पंचायत पर कांग्रेस का कब्जा है इसके बावजूद बदरवास की 12 पोलिंगों में से कांग्रेस मात्र 4 पोलिंग पर बढ़त में रही और उसे बदरवास में 700 मतों से आश्चर्यजनक रूप से पराजय का सामना करना पड़ा। बदरवास में भाजपा उम्मीदवार देवेंद्र जैन को जहां 3321 मत मिले वहीं कांग्रेस प्रत्याशी महेंद्र यादव 2623 मतों पर सीमित हो गए। बदरवास पोलिंग में बदरवास मंडल की 106 पोलिंग में से कांग्रेस 60 यादव बाहुल्य पोलिंग होने के बावजूद मात्र 1556 मतों से ही आगे रही। बदरवास मंडल में कांग्रेस उम्मीदवार महेंद्र यादव को 26 हजार 747 मत मिले जबकि भाजपा उम्मीदवार देवेंद्र जैन को 25 हजार 191 मत प्राप्त हुए। 

रन्नौद मंडल के पोलिंग बूथों पर भाजपा उम्मीदवार देवेंद्र जैन को 19 हजार 120 मत प्राप्त हुए जबकि कांग्रेस उम्मीदवार महेंद्र यादव को 20 हजार 850 मत प्राप्त हुए और रन्नौद सेक्टर से भाजपा लगभग 1600 मतों से पीछे रही, लेकिन लुकवासा कस्बे में भाजपा का प्रदर्शन कांग्रेस की तुलना में अधिक बेहतर रहा। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics