सेहत भरी खबर: अपने खैराती अस्पताल में मिलेंगी 5 स्टार लक्झरी व्यवस्थाएं

शिवपुरी। लापरवाही का ब्रांड बन चुका शिवपुरी का जिला अस्पताल में अब मरीजों को 5 स्टार अस्पताल जैसी लक्झरी सुविधाएं होगी। बताया जा रहा है कि इन सुविधाओं का लाभ जुलाई 2019 से मिलना शुरू हो जाऐगा। शिवपुरी के सरकारी अस्पताल से बिमारू अस्पताल का तमगा हट जाऐगा। 125 करोड रुपए की लागत से 500 बिस्तर के सरकारी अस्पताल में मेडिकल कॉलेज का अस्पताल भी शामिल है। सरकार ने फरवरी 2018 में जिला अस्पताल को 300 बिस्तर से बढ़ाकर 400 बिस्तर का करने की अनुमति जारी कर दी है। 

इसके अलावा मेडिकल कॉलेज के सपोर्ट के लिए बन रहे 100 बिस्तर के अस्पताल को भी इससे जोड दिया गया है। कुल मिलाकर अब ये 500 बिस्तर का अस्पताल होगा। इनमें आउटडोर, इनडोर, ऑपरेशन थिएटर, इमरजेन्सी, ब्लड बैंक व गंभीर मरीजों को जीवन रक्षक उपकरणों से सुसज्जित आईसीयू की सुविधा उपलब्ध रहेगी। 

जुलाई 2019 में शुरु होगी सेवा 
जिला अस्पताल के उन्नयन और मेडिकल कॉलेज के 100 बिस्तर के अस्पताल को मिलाकर 500 बिस्तर के अस्पताल का निर्माण का काम नवंबर 2018 में पूरा होना है। इसके बाद वर्ष 2019 जुलाई में ये अस्पताल सेवाएं देना शुरु कर देगा। 

24 घटें रहेंगें स्पेशलिस्ट डॉक्टर, हर पल तैयार अस्पताल 
दुर्घटना से घायलों के लिए एक ही छत के नीचे सुविधा  श्योपुरए अशोकनगरए शिवपुरी और उसके आसपास व अन्य क्षेत्रों से स?क दुर्घटना के शिकार होकर आने वाले घायलों को एक छत के नीचे जांच,ब्लड, यूरीन, ईसीजी, डिजिटल एक्सरे और सोनोग्राफ ी की जांचे होंगी,इसके अलावा विशेषज्ञ डॉक्टरो की टीम जैसे न्यूरालोजी न्यूरोलोजी फि जिशियन, न्यूरोसर्जन, आर्थोपेडिक्स, गायनी, कार्डियोलोजिस्ट  की 24 घंटे सातों दिन सुविधा उपलब्ध रहेगी। 

सरकारी स्तर पर पहला 7 मंजिला भवन 
इसमें भर्ती मरीजों के लिए वार्ड मेडिसन, सर्जरी, आर्थोपेडिक्स, गायनी, पीडियाट्रिक्स, ऑप्थेल्मिकए,ईएनटी, चेस्ट एंड टीबी, डर्मेटोलॉजी व साइकेट्रीक, आईसीयू, ऑपरेशन थिएटर, पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड व जांच सुविधा। मरीजों को लाने ले जाने के लिए चार बडी लिफ्ट भी रहेगी। दस ऑपरेशन थिएटर में पांच मॉड्यूलर व पांच सामान्य होंगे। 

लकवाग्रस्त मरीजों के इलाज के लिए स्पाइनल सेन्टर बनेगा। प्रशासनिक अधिकारी व डॉक्टर मरीजों की ऑनलाइन मॉनिटरिंग कर सकेंगे। ऑपरेशन थिएटर व आईसीयू संक्रमण रहित होंगे। हर फ्लोर पर सैंपल कलेक्शन व ड्रग स्टोर की सुविधा। 

किसके कितने बैड व विभाग
आईसीयू, मेडिकल, सर्जरी, पीडियाट्रिक्स व इंटेनसिव केयर यूनिट के दस-दस बिस्तर .आईसीयू , मेडिसन व सर्जरी के 120-120 बिस्तर, गायनी व आर्थोपेडिक्स के 60-.60 बिस्तर, .पीडियाट्रिक्स के 60 बिस्तरए दस-दस बिस्तर,ऑप्थेल्मिक, ईएनटी, डर्मेटोलॉजी, साइकेट्री, चेस्ट एंड टीबी, आईसीयू  20 बिस्तर, 700 बिस्तर प्रस्तावित  अस्पताल को 700 बिस्तर और एमआरआई व सीटी स्कैन और डायलिसिस यूनिट, ट्रोमा सेन्टर, कैथ लैब, रीट्रिवल सेन्टर खुलेगा। 

अस्पताल का काम तेजी से चल रहा है 
500 बिस्तर के अस्पताल का काम तेजी से चल रहा है। 7 मंजिला मेडिकल कॉलेज के निर्माण की मंजूरी हो चुकी है। इसके अलावा 400 बेड के जिला अस्पताल के उन्नयन की भी मंजूरी आ चुकी है और इसका काम पूरा भी हो चुका है। 
डॉ, गोविंद सिंह
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics