मीडिया संवाद: पत्रकारों को आधुनिक तकनीकी के उपयोग के साथ अपडेट रहने की जरूरत है

शिवपुरी। मध्यप्रदेश यूएनआई के हैड प्रशांत जैन ने मीडिया संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि समय के अनुसार पत्रकारिता में भी बदलाव आया है। संचार के साधनों में वृद्धि हुई है। उसी गति से समाचारों में भी तेजी आई है। अत: पत्रकारों को हमेशा आधुनिक तकनीकी के उपयोग करने के साथ-साथ अपडेट रहने की भी आवश्यकता है। उक्त आशय के विचार श्री जैन ने जिला जनसंपर्क कार्यालय शिवपुरी द्वारा स्थानीय सनराईज होटल में आयोजित ‘‘पत्रकारों को पत्रकारिता की कौशल बारीकियों पर चर्चा कर उन्हें नवीन तकनीकी से अवगत कराए जाने हेतु एक दिवसीय मीडिया संवाद कार्यक्रम’’ में व्यक्त किए। कार्यक्रम में भोपाल पीपुल्स समाचार पत्र के हैड पवन देवलिया, वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद भार्गव, अशोक कोचेटा,वीरेन्द्र वशिष्ठ ने भी अपने-अपने विचार व्यक्त किए। मीडिया संवाद कार्यक्रम में स्थानीय पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों का भी जवाब दिया गया। 
प्रशांत जैन ने कहा कि समय के अनुसार जिस प्रकार संचार माध्यमों में वृद्धि हुई उसी रफ्तार से समाचार एवं सूचनाओं में भी गति आई है। संचार माध्यमों के कारण समाचार का स्वरूप भी बदला है। इसके लिए पत्रकारों को सदैव हमेशा अपडेट रहना होगा। उन्होंने कहा कि समाचार लिखते वक्त खबरों की पुष्टि एवं प्रमाणिकता पर विशेष ध्यान दें। बिना पुष्टि किए हुए समाचार को आगे न बढ़ाए।

श्री जैन ने कहा कि पत्रकार समाज का महत्वपूर्ण अंग है, नकारात्मक समाचारों के साथ-साथ समाज में एवं शासन द्वारा किए जाने वाले सकारात्मक कार्यों को भी समाचार पत्रों एवं चैनलों में स्थान दें। इस दौरान श्री जैन ने पानी संरक्षण विषय पर अपने विचार रखते हुए कहा कि जल के बिना जीवन की कल्पना संभव नहीं है, पूरी दुनिया में दो तिहाई हिस्से में पानी है। उन्होंने राज्य सरकार की क्षिप्रा एवं नर्मदा नदी जोड़ अभियान की जानकारी देते हुए कहा कि एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हमारा नैतिक कर्तव्य है कि पानी का हम संरक्षण करें। विभिन्न माध्यमों से लोगों को पानी संरक्षण के प्रति जागरूक भी करें। 

पीपुल्स समाचार पत्र के हैड पवन देवलिया ने संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जिस प्रकार से संचार माध्यमों में तेजी से गति आई है। उसी गति से हमें अपने आपको अपडेट भी रखना होगा। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता के क्षेत्र में चुनौतियां है, लेकिन अपने कार्य में पत्रकार कभी विचलित न हो, पत्रकार हमेशा जनता के हितों को तथ्यों के साथ रखें। पत्रकार मां सरस्वती के उपासक है। पत्रकार विषय विशेषज्ञों से सीखने की प्रवृति को जारी रखें। 

कार्यशाला में श्री प्रमोद भार्गव ने देश में अन्ना हजारे द्वारा राले गांव में किए गए जलसंरक्षण के कार्यों की चर्चा करते हुए कहा कि हमें उनसे प्रेरणा लेकर जलसंरक्षण के कार्य को आगे बढ़ाना होगा। इस कार्य में जनभागीदारी भी करनी होगी। उन्होंने आत्महत्याओं की प्रवृत्ति रोकने में मीडिया की भूमिका विषय पर बोलते हुए कहा कि आत्महत्या के समाचार ऐसे लिखे जाए जिससे युवा प्रेरित न हो। उन्होनें कहा कि हमें आत्महत्या को प्रेरित करने वाली घटनाओं को हतोत्साहित करने की आवश्यकता है।    

श्री अशोक कोचेटा ने अपने उद्बोधन में कहा कि पत्रकारिता के क्षेत्र में 50 वर्षों की काफी परिवर्तन आया है, इसके पीछे आधुनिक तकनीकी है। इस दौरान पत्रकारिता का विस्तार भी हुआ है। पत्रकारिता एक मिशन के रूप में थी, लेकिन आज पत्रकारिता का स्वरूप बदला है।

श्री वीरेन्द्र वशिष्ठ ने कहा कि शहरी क्षेत्र की अपेक्षा ग्रामीण परिवेश की पत्रकारिता में काफी समस्याए आती है। उन्होंने कहा कि पत्रकार को समाज की छोटी से छोटी समस्याए भी सामने लाना चाहिए। पत्रकार समाचार को लिखने से पहले उसको परखे और सभी पक्षों को रखें। उन्होंने युवा पत्रकारों से वरिष्ठ पत्रकारो का अनुशरण करने का भी आग्रह किया। 

कार्यक्रम के शुरू में जिला जनसंपर्क कार्यालय के उपसंचालक अनूप सिंह भारतीय ने मीडिया संवाद कार्यक्रम की उद्देश्यों एवं महत्व पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन श्री अरूण अपेक्षित ने किया। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर मां सरस्वती के चित्र पर माल्यापर्ण कर किया गया। 

पत्रकारों का हुआ सम्मान
शिवपुरी में आयोजित मीडिया संवाद कार्यक्रम में अतिथि पत्रकारगणों में सर्व मध्यप्रदेश यूएनआई के हैड प्रशांत जैन, पीपुल्स समाचार पत्र के हैड पवन देवलिया, प्रमोद भार्गव, अशोक कोचेटा और वीरेन्द्र वशिष्ठ का उपसंचालक जनसंपर्क अनूप सिंह भारतीय द्वारा शॉल, श्रीफल एवं पुष्पाहारों से सम्मान किया गया।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics