संविदा आंदोलनकारीयों ने शिवराज सिंह चौहान की सद्धबुद्धि के लिए मां से की आराधना

शिवपुरी। मध्य प्रदेश संविदा संयुक्तण मंच इकाई  जिला शिवपुरी म.प्र. द्वारा शासन को नींद से जगाने एवं  समस्त संविदा कर्मचारी एवं अधिकारी को नियमितकरण की मांग हेतु पिछले 10 दिनों से जिलाधीश कार्यालय के पास अनवरत रूप से  धरना जारी हैं। संविदा कर्मचारियों का कहना है कि विगत 15 -20 वर्षो से म.प्र. शासन के अधीन विभिन्न विभागों में शासन की योजनाओं को संविदा सेवक आपके कुशल मार्गदर्शन में कार्यरत है। 

संविदा कर्मचारी एवं अधिकारी 10 वर्षो से प्रथक-प्रथक संघ व मंच के माध्यम से नियमितीकरण की मांग समय-समय पर करते रहे हैं। साथ ही संविदा भर्ती सेवा शर्तो की न्यूतम आयु सीमा पूर्ण कर चुके हैं। नियमतीकरण हेतु 38 संघ/मोर्चा की 4 , 10  एवं 11 फरवरी को संयुक्त रूप से निर्णय पारित कर नियमितीकरण हेतु म.प्र. संविदा संयुक्त संघर्ष मंच का गठन किया गया। मंच के द्वारा 26 एवं 27 फरवरी 2018 जिला स्तर पर दो दिवसीय हड़ताल एवं 28 फरवरी को भोपाल के जम्बूरी मैदान 1 लाख संविदा सेवक शासन की संविदा नीति के विरोध में एकत्रित हुए। 

तभी सभी संविदा कर्मी अपनी मांगों के लिए अनवतर रूप से शासन व प्रशासन को पत्राचार करते चले आ रहे हैं लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं की जा रही हैं। इन्हीं सभी बातों को ध्यान में रखकर 15 मार्च से जिलाधीश कार्यालय पर अपनी मांगों को मंगवाने के लिए धरना आंदोलन जारी है। आज दिनांक 24 मार्च 2018 को माँ दुर्गा की उपासना कर कन्या भोज किया गया साथ ही सभी संविदा कर्मियों ने माँ से आराधना कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सद्बुद्धी देने की प्रार्थना की। 

माँ की आराधना करने वालों में सत्यमूर्ति पाण्डेय, अमित श्रीवास्तव, विकास गोयल, रागिनी त्रिवेदी, नंदकिशोर शर्मा, मनोज निगम, सीमा उपाध्याय, अजय सिंह परिहार, प्रशांत शर्मा,जुबेर खांन, शशांक शुक्ला, मयंक माथुर, के.के. गुप्ता, मो. शाहिद खांन, दिनेश जौहरी, सहित अन्य संविदा कर्मी शामिल थे। इसीक्रम में बीते रोज रक्त  दान के उपरांत मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत शिवपुरी को रैली निकाल कर ज्ञापन सौंपा गया एवं उनके द्वारा संविदा संयुक्त मंच की नियमितीकरण की मांग को जायज बताया एवं शासन के समक्ष उक्त  मांग का पत्र भेजने की मांग की। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics