Ad Code

समझौता वार्ता विफल, ग्रामीण बैंक कर्मियों की हड़ताल जारी

शिवपुरी। 14 सित बर से मध्यांचल ग्रामीण बैंक के कर्मियों की विभिन्न मांगों को लेकर हड़ताल आज भी जारी रहीं। हालांकि कल बैंक कर्मचारियों के प्रतिनिधि मंडल की मध्यांचल ग्रामीण बैंक के चेयरमेन राजशेखरन से सागर स्थित प्रधान कार्यालय में समझौता वार्ता हुई। 

लेकिन उक्त वार्ता बैंक ऐरियर तथा ग्रेज्यूशन इंक्रीमेंट के संबंध में कोई आश्वासन न मिलने से विफल हो गई।   ग्रामीण बैंक कर्मचारियों की हड़ताल से शिवपुरी, गुना सहित 14 जिलों में मध्यांचल ग्रामीण बैंक के कार्यालयों में ताले लटके रहे। 

इससे जहां उपभोक्ता परेशान देखे गए वहीं किसानों का फसल बीमा नहीं हो पा रहा हैं। जबकि फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 22 सित बर हैं। 

मध्यांचल ग्रामीण बैंक ऑफिसर्स ऐशोसियेशन के  मु य समन्वयक एसकेएस चौहान ने बताया कि कल सागर में प्रबंधन के साथ हुई चर्चा में कर्मचारियों के प्रतिनिधि मंडल एसकेएस चौहान, मुरारीलाल गुप्ता, संतोष पाण्डेय, संतोष द्ववेदी, रवि, नफीस अहमद सिद्धकी से प्रबंधन ने चर्चा की। 

चर्चा के दौरान बैंक प्रबंधन कर्मचारियों का नया वेतनमान लागू करने हेतु 20 सित बर को बैठक बुलाने पर सहमत हो गया लेकिन बैंक ऐरियर के संबंध में प्रबंधन ने कोई आश्वासन नहीं दिया और स्पष्ट रूप से कहा कि इसके संबंध में निर्णय 20 सित बर की बैठक में नहीं बल्कि अगली बैठक में होगा। 

ग्रेज्युेशन इंक्रीमेंट शुरू करने पर भी प्रबंधन सहमत नहीं हुआ। इस कारण मध्यांचल ग्रामीण बैंक के सभी चार संगठनों ने हड़ताल जारी रखने का निर्णय लिया।  

इसीक्रम में आज बैंक कर्मचारी शिवपुरी में आर्य समाज रोड़ स्थित प्रधान कार्यालय में एकत्रित हुए जहां उन्होंने जमकर नारेबाजी की। हड़ताल के कारण सर्वाधिक प्रभावित कृषक हुए हैं। बैंक बंद होने से उनके केसीसी खातों में जमा खर्च नहीं हो पा रहा हैं।

 जिसके अभाव में उनका फसल बीमा नहीं हो पायेगा।  जबकि वर्तमान में सूखे को देखते हुए फसल बीमा की कृषक के लिए महती आवश्यकता हैं।