युवा स्वाभिमान योजना: नपा में नहीं लगी उपस्थिति, बेरोजगारों का हंगामा | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही युवा स्वाभिमान योजना के अंतर्गत बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के लिए पंजीयन कराकर उन्हें डेढ़ माह से लगातार थम्ब एम्प्रेशन मशीन के माध्यम से अंगूठा लगाने की प्रक्रिया नपा कार्यालय में अनवरत रूप से चल रही थी और युवा बेरोजगारों को प्रत्येक दिन नपा कार्यालय में बुलाया जा रहा था साथ ही उनसे नपा में वर्क भी लिया जा रहा था कुछ युवाओं से तो नपा के रिकॉर्ड को भी दुरस्ती करण का कार्य भी कराया गया लेकिन अब पिछले दो दिन से इन बेरोजगार युवाओं की उपस्थिति न लेने युवाओं में आक्रोश दिखाई देने लगे। 

उनका कहना है कि सरकार हमारे साथ छलावा कर रही हैं। क्योंकि पिछले डेढ़ माह से हम प्रत्येक दिन सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक नपा कार्यालय में ही भटकते रहते हैं न तो हमको बेरोजगारी भत्ता मिल रहा हैं ना ही प्रशिक्षण दिया जा रहा ऐसी स्थिति में हम करें भी तो क्या करें। इस बात से आक्रोशित होकर युवाओं ने आज नपा के सीएमओ कार्यालय के समक्ष जमकर हंगामा खड़ा कर दिया। युवाओं के हंगामे को देख सीएमओ के.के पटेरिया सभी वेरोजगार युवाओं को कम्युनिटी हॉल पर बुलाकर युवा स्वाभिमान योजना से जुड़े कर्मचारियों को बुलाकर उनसे पूरे प्रकरण को समझ कर युवा के हित में निर्णय लेने की बात कहीं। 

शिवपुरी नगर पालिका के CMO के.के पटेरिया से जब इन बेरोजगार युवाओं के बारे में चर्चा की तो उनका कहना था कि हमारे पास शासन ने अभी एक भी प्रशिक्षण केन्द्र की जानकारी नहीं भेजी हैं लेकिन पूर्व जो प्रशिक्षण केन्द्रों की जानकारी आई थी उनमें कहीं तो पोहरी प्रशिक्षण केन्द्र था तो कहीं करैरा, खनियांधाना पिछोर ऐसी स्थिति में इन बेरोजगार युवाओं को हम प्रशिक्षण लेने के कैसे भेजते  और इनकी जवाबदारी कौन लेता तो इस बात की जानकारी हमने जिलाधीश को दी तो उन्होंने एनआरसी के माध्यम पत्र भेजकर शासन के वरिष्ठ अधिकारियों अवगत करा दिया था, लेकिन तब से एक भी प्रशिक्षण केन्द्र की स्वीकृति नहीं आई हैं ऐसी स्थिति में हमने इन बेरोजगार युवाओं की उपस्थिति लेना बंद कर दी हैं। यदि प्रशिक्षण जानकारी आ जाएगी तो इन्हें दुवारा बुला लिया जाएगा। 

शासन ने बेरोजगार युवा के साथ की ठगी

युवा बेरोजगार सुरेन्द्र का कहना है कि जब से हमने नगर पालिका में युवा बेरोजगारी का फार्म डाला है तब से दो-दो हजार रूपए खर्च कर डेढ़ माह से लगातार मेहनत ली जा रही हैं, प्रदेश सरकार ने बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने की इतनी बड़ी योजना चलाई थी लेकिन इस योजना का लाभ एक भी बेरोजगार युवा को नहीं मिला और उनके साथ खुलकर भद्दा मजाक किया गया हैं। क्योंकि डेढ़ माह से 6-6 सुपर बाईज पूरी योजना में सुपर बीजन कर रहे हैं और अब डेढ़ माह निकल जाने के बाद हमारी उपस्थिति लेना भी बंद कर दी। इतना ही नहीं प्रशिक्षण के नाम यह तक पता नहीं है की कौन से केन्द्र पर हमें प्रशिक्षण दिया जाएगा। ऐसी स्थिति महें शायद ही बेरोजगारी भत्ता मिल सके। सरकार ने हमारे पास से जो पैसे वह भी खर्च करा लिए ऐसे स्थिति में हम तो अपने आपको ठगा से महसूस कर रहे हैं।

करैरा के मुख्यमंत्री कौशल प्रशिक्षण केन्द्र चल रहा हैं बेरोजगारों का प्रशिक्षण 

करैरा नगर पंचायत द्वारा वहां के बच्चों को कौशल प्रशिक्षण केन्द्र में 40 बेरोजगारों का प्रशिक्षण दिया जा रहा हैं जिसमें मोबाईल रिपेयरिंग के साथ-साथ कम्प्यूटर संबंधी जानकारी एवं महिलाओं के लिए कड़ाई का प्रशिक्षण दिया जा रहा हैं। जबकि शासन ने जब आवेदन फार्म आमंत्रित किए थे तब उन्होंने 42 ट्रेडों के लिए आवेदन आमंत्रित कराए थे। लेकिन ऐसा जाने क्या हुआ कि 4 ही ट्रेडों में प्रशिक्षण के नाम आए हैं उनमें भी प्रशिक्षण नहीं मिल रहा हैं।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया