बडी खबर: संदिग्ध परिस्थिति में मिली युवक की सिर कुचली लाश, विक्षिप्त सगे भाई पर हत्या का आरोप | SHIVPURI NEWS - Shivpuri Samachar | No 1 News Site for Shivpuri News in Hindi (शिवपुरी समाचार)

Post Top Ad

Your Ad Spot

4/15/2019

बडी खबर: संदिग्ध परिस्थिति में मिली युवक की सिर कुचली लाश, विक्षिप्त सगे भाई पर हत्या का आरोप | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। खबर शहर के फिजीकल थाना क्षेत्र के ग्वालियर बायपास के सैलीब्रेसन गार्डन के पास से आ रही है। जहां आज सुबह एक युवक की सिर कुचली लाश मिली। इस मामले की सूचना सुबह म्रतक के भाई को उस समय लगी जब वह दोनों भाईयों को चाय देने आया। इस मामले की सूचना पर तत्काल पुलिस मौके पर पहुंची। इस मामले में पुलिस विक्षिप्त भाई पर ही हत्या का आरोप बता रही हैै। 

जानकारी के अनुसार आज सुबह सीताराम पुत्र मिंटूलाल कुशवाह अपने भाई गोविंद विश्वकर्मा जो कि मिर्गी के दौरों से पीडित है। और दूसरे भाई कन्हैया विश्वकर्मा जो कि मानसिक रोगी है। को फैक्ट्री पर ही चाय देने गया हुआ था। जब जाकर देखा तो वहां गोविंद की सिर कुचली लाश पडी हुई थी। जिसे कम्बल से ढक दिया था। जिसपर भाई सीताराम ने उक्त मामले की सूचना पुलिस को दी। 

फिजीकल थाना प्रभारी अनीता मिश्रा मय दल के मौके पर पहुंची और देखा तो लाश के पास ही एक बडा सा पत्थर पडा हुआ था। जिस पर खून के निशान थे। पुलिस का कहना है कि तभी पास में ही एक मानसिक रूप से विक्षिप्त युवक दिखाई दिया। जिस पर पुलिस ने उक्त युवक के बारे में पूछा तो पता चला कि उक्त युवक म्रतक का भाई है। और वह बीते लंबे समय से मानसिक रोगी है। वही म्रतक को भी मिर्गी के दौरे आते थे। जिसके चलते उक्त दोनों भाई फैक्ट्री पर ही रहते थे। 

बडा भाई सीताराम रोज दोनों को घर से खाना लाकर खिलाता था। आज सुबह जब सीताराम खाना देने पहुंचा तो गोविंद की लाश पडी मिली। पुलिस ने बताया है कि जब उक्त मानसिक रोगी से पुलिस ने नाम पूछा तो उसने अपना नाम के एल विश्वकर्मा बताया। जब उक्त युवक के बारे में पूछा तो उसने बताया कि वह चिल्ला रहा था। जिसपर से उसने पत्थर पटक दिया। पागल भाई बारबार पुलिस को बताता रहा कि वह मरा नहीं है वह जिंदा हो जाएगा। जिसपर पुलिस ने इस मामले में सीताराम की शिकायत पर आरोपी मानसिक विक्षिप्त के एल विश्वकर्मा के खिलाफ हत्या की धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है। 

हांलाकि पुलिस द्धारा बताई गई कहानी गले नहीं उतर रही है। बताया गया है कि दोनों भाई बीते लंबे समय से एक साथ रहते थे। दोनों की स्थिति ठीक नहीं थी। म्रतक से टोटल 8 भाई थे। जिसमें से चार की पहले ही मौत हो गई। आठों भाईयों का कमलागंज में मकान है। सीताराम श्रीराम स्टील के पीछे नया मकान बनाकर रह रहा है। इस मामले में माना जा रहा है कि कोई इस पूरे परिवार के पीछे पडा हुआ है। जिसने एक तीर से दो को निशाना बनाया है। जिसके चलते एक की हत्या और दूसरे पर आरोप लगाकर उक्त मामले से इतिश्री कर ली है। हांलाकि पुलिस ने अभी मानसिक रोगी पर ही मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है। 

No comments:

Post Top Ad

Your Ad Spot