Ad Code

पूर्व की परिषद के ठहराव की कॉपी नहीं मिली तो सम्मेलन स्थागित कर दिया | Shivpuri News

शिवपुरी। नगर पालिका परिषद शिवपुरी में आज बजट सत्र पेश किया जाना था लेकिन पार्षदों ने आज सर्व सम्मलित से नगर पालिका की परिषद बैठक में कहा कि आपने सात दिन में पूर्व परिषद के ठहराव देने की बात कहीं थी, लेकिन आज 10 से दिन से अधिक निकल जाने के बाद भी आप नगर पालिका के बजट सत्र को पेश कराने के लिए तो ले आए लेकिन हमें पूर्व की परिषद में 30 बिन्दुओं के एजेंटे पर चर्चा कर उनके ठहराव की एक भी कॉपी नहीं दे पाए। 

ऐसे में आपको अपनी मनमर्जी से परिषद चलना हैं और चाहे जिस बिन्दू को पास करना है तो परिषद की बैठकों की क्या आवश्यकता हैं। बस इतना कह कर सभी पार्षद परिषद की बैठक को छोडक़र चले गए। 

यहां उल्लेख करना प्रासंगिक होगा कि नगर पालिका परिषद शिवपुरी में आज बजट सत्र पेश किया गया जिसमें सर्व सम्मत्ति से पास नहीं हो सका यहां पार्षदों द्वारा बजट एजेंडे पर चर्चा की तब पता चला की नगर पालिका द्वारा प्रस्तावित  आय 1887715108 का पेश किया था लेकिन प्रस्तावित व्यय 1887625000 बताया गया था वहीं नगर पालिका के लिए शुद्ध बचत 90108 की बताई जा रही थी लेकिन बजट एजेंडे में पूर्व के कुछ विन्दुओं पर चर्चा की तो इस एजेंडे में कई विन्दुओं पर ठीक चर्चा न होने के कारण बजट सत्र को स्थागित कर सीएमओ एवं नगर पालिका अध्यक्ष परिषद छोड़ कर चले गए।

इस एजेंडे में राष्ट्रीय त्यौहार पर वर्ष 2017-18 में खर्च हुई राशि का की जानकारी दी तो पता चलता है कि 10 लाख का खर्च होना बताया गया हैं वहीं सिद्धेश्वर मेले पर जब ठेकेदार को दिया गया था तो नगर पालिका द्वारा 13.42 लाख रूपए कैसे खर्च कर दिए गए जबकि पूर्व में सिद्धेश्वर मेला नो लॉस नो प्रोफिट में लगाया जाता था।  

वहीं सार्वजनिक प्रदर्शनी एवं स्वागत समारोह, शामियाना व्यवस्था, विद्युत व्यवस्था आदि पर खर्च की राशि 95.73 लाख रूपए व्यय होना बताया जा रहा था। इन सभी बिन्दुओं के साथ पानी के टेंकरों की राशि स्वीकृत कराने के लिए पार्षदों ने अध्यक्ष से कहा कि संकल्प ठहराव पेश करें तभी आगे की परिषद पर चर्चा हो सकेगी।