Ad Code

प्रजातंत्र का मूल अधिकार है पंचायती राज, इसे मजबूत बनाना है। सांसद सिंधिया

शिवपुरी। पंचायती राज की स्थापना करने वाले स्व.प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने ग्रामीण परिवेश को मजबूत बनाने और विकासोन्मुखी कार्य करने के लिए पंचायती राज व्यवस्था लागू की गई और यह स्तम्भ तभी विकास की मुख्य धारा में बहेगा जब इसे इसके अधिकार दिए जाऐंगें।  

सन् 1993 से लेकर 2009 तक कांग्रेस सरकार ने मनरेगा जैसी बहुमुखी योजना लाकर ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार की स्थापना की, ग्रामीण क्षेत्र के सर्वांगीण विकास के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष, सदस्य, जनपद अध्यक्ष, सदस्य, पंच, सरपंच और उप सरपंचों को अधिकार दिए गए है।

आज मप्र की कमलनाथ सरकार ने जिला पंचायत की निधि बढ़ाकर 25 लाख से 50 लाख रूपये कर इन्हें संबल बनाने का काम किया है इन्हीं सब कार्येां से प्रजातंत्र की मजबूती कड़ी है पंचायती  राज में इसे प्रोत्सोहित करने की आवश्यकता है और यदि भ्रष्टाचार हो तो दण्डित भी किया जाए, तभी हम पंचायती राज की परिकल्पना को सही रूप से साकार कर सकेंगें। 

उक्त उद्गार प्रकट किए पूर्व मंत्री एवं गुना-शिवपुरी लोकसभा क्षेत्र के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जो स्थानीय गांधी पार्क मैदान में जिला पंचायत शिवपुरी द्वारा आयोजित पंचायती राज सम्मेलन कार्यक्रम को मुख्य अतिथि की आसंदी से संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कमला बैजनाथ सिंह यादव ने की जबकि अतिथिद्वयों में जिला कलेक्टर सुश्री अनुग्रह पी., जिला कांग्रेस अध्यक्ष बैजनाथ सिंह यादव, विधायक सुरेश रांठखेड़ा, पूर्व विधायक गणेश गौतम, हरिबल्लभ शुक्ला, जनपद अध्यक्ष पारम सिंह रावत, उपाध्यक्ष अशोक ठाकुर, नपाध्यक्ष मुन्ना लाल कुशवाह, पूर्व नपाध्यक्ष जगमोहन सिंह सेंगर, जनपद उपाध्यक्ष रामवीर सिंह यादव, सरपंच संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष रामबाबू शिवहरे, नपं अध्यक्ष कोलारस रविन्द्र शिवहरे आदि मंचासीन थे। 

कार्यक्रम की शुरूआत कै.महाराज माधवराव सिंधिया व महात्मा गांधी के चित्र पर दीप प्रज्जवलन व माल्यार्पण के साथ हुआ। कार्यक्रम का संचालन गिरीश मिश्रा मामा ने जबकि आभार प्रदर्शन बदरवास जनपद सीईओ ब्र्हमन्द्र गुप्ता द्वारा व्यक्त किया गया। कार्यक्रम में 610 पंचायतों के जिला पंचायत सदस्य, जनपद सदस्य, सरपंच, पंच और उपसरपंच सहित हजारों की संख्या में दूर-दराज क्षेत्रों से आए ग्रामीणजन सांसद सिंधिया को सुनने मौजूद रहे। कार्यक्रम समापन पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कमला यादव एवं सांसद प्रतिनिधि रामवीर यादव व पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा सांसद सिंधिया को को स्मृति चिह्न प्रदान किया गया।