बालाजी धाम मंदिर पर होली महोत्सव: 10 हजार कंडो की सबसे बड़ी होली का होगा दहन | Shivpuri News

शिवपुरी। 20 मार्च को होलिका दहन के अवसर पर श्री बालाजी धाम मंदिर प्रांगण में जिले की सबसे बड़ी  कंडे की होली सजाई जाएगी पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी  श्री बालाजी धाम मंदिर पर 10 हजार  कंडों की  विशाल होली का  दहन किया जाएगा इसके अलावा यहां पर और भी आयोजन किए जा रहे हैं जो होली पर्व में चार चांद लगाएंगे।

श्री बालाजी धाम मंदिर नौहरी कलां शिवपुरी में होलिका दहन का बड़ा विशेष महत्व है। श्री मेहंदीपुर बालाजी में जी  होली के त्यौहार पर  अनेक तरह की समस्याओं से ग्रस्त लोग पहुंचते हैं जो अल्प समय में नारियल उसारा के माध्यम से समस्या से  निजात पाते हैं पूर्णिमा अर्थात होलिका दहन के दिन बालाजी दरबार मे हाजऱी, अर्जी व दरखास्त लगाने से बालाजी महाराज हर संकट पल में ही काट देते है और सभी मनोकामनाएं शीघ्र ही पूर्ण हो जाती है होली के दिन यहां पर विशाल संख्या में लोग उपस्थित होते हैं  और जो संकट ग्रस्त लोग हैं। 

उनके लिए  होली का दिन बड़ा महत्वपूर्ण होता है क्योंकि यहां पर होलिका मैया के दहन  के समय नारियल उसारकर चढ़ाए जाते हैं और ऐसा करने से  समस्याग्रस्त व्यक्ति को अविश्वसनीय रूप से लाभ मिलना प्रारंभ हो जाता है आपको बता दें कि श्री बालाजी धाम मंदिर पर  शिवपुरी जिले की सबसे विशाल कंडो की होली का दहन किया जाता है । कंडे की होली जलाने के पीछे तात्पर्य बताया गया है कि इससे वातावरण पूरी तरह शुद्ध होता है और नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होती है । 

जिससे मानव जीवन में जो ऊपरी बाधाओं के माध्यम से परेशानी आती है वह स्वत: ही खत्म हो जाती है होली महोत्सव की  तैयारियां  यहां जोरों पर चल रही है बालाजी धाम मंदिर का चरण सेवको द्वारा फ्लेक्स बैनर और प्रचार के माध्यम से लोगों को अवगत कराने का कार्य किया जा रहा है जिससे अधिक से अधिक लोग इसका लाभ उठा सकें

यह उपाय करने से हो सकता है समस्या का समाधान
होलिका दहन के अवसर पर संकटग्रस्त लोगों के लिए विशेष प्रावधान स्वरूप पूजा का आयोजन श्री बालाजी धाम मंदिर पर किया जा रहा है इस संबंध में और अधिक जानकारी देते हुए महंत जी महाराज ने बताया कि जहां पर समस्या ग्रस्त लोगों के लिए 1 दिन पूर्व यानी कि 19 मार्च को समस्या के मुताबिक   उसारा करने का तरीका बताया जाएगा

जिससे संकट ग्रस्त व्यक्ति को जल्द से जल्द आराम मिल सके उन्होंने बताया कि सुख समृद्धि संपत्ति एवं शांति हेतु ग्रह क्लेश, आपसी मतभेद, संतानहीनता, नौकरी, व्यापार, कोर्ट कचहरी, ऊपरी बाधा, तांत्रिक क्रिया, किया कराया, बंधन, चौकी, मानसिक रोग, पागलपन, मिर्गी, लाईलाज बीमारी, नजऱ, हाए ,विवाह जैसी अनेको समस्या समाधान हेतु नारियल के उसारे किये जायेंगे इच्छुक व्यक्ति रोगी के साथ 19 मार्च  मंगलवार तक मंदिर में उपस्थित हो महंत जी से भेंट करें ।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया