खनियांधाना TI वाल्टर का गाली देते हुए VIDEO वायरल, BJP नेता के परिजनों को दे रहे है गाली VIDEO | khaniyadhana, Shivpuri News

शिवपुरी। खबर जिले के खनियाधाना में कल जिस भाजपा कार्यकर्ता नातीराजा यादव की पेड़ पर लटकी हुई लाश मिली थी। उस मामले में मृतक के परिजनों और एक BJP कार्यकर्ता रहीश यादव के साथ टीआई प्रदीप वाल्टर द्वारा गाली गलौच किए जाने का वीडियो वायरल हुआ है। इस घटनाक्रम से आक्रोशित मृतक के परिजनों ने नातीराजा का PM पिछोर कराने से इंकार किया और लाश को शिवपुरी ले आए। जहां नातीराजा के शव का पोस्टमार्टम किया गया। 

बताया जाता है कि आज सुबह मृतक के चाचा ब्रजभान यादव, ताऊ त्रिलोक सिंह यादव और भाजपा कार्यकर्ता रहीश यादव खनियाधाना में कोतवाली में टीआई प्रदीप वाल्टर के पास गए तो यहां टीआई का मृतक के परिजनों और भाजपा कार्यकर्ताओं से जमकर विवाद हुआ। आरोप है कि टीआई प्रदीप वाल्टर ने सडक़ पर खड़े होकर मृतक के परिजनों को जमकर गालियां दी और उनके साथ अभद्रता की तथा भाजपा कार्यकर्ता रहीश यादव को बंद कर दिया। 

संबंध में जो वीडियो वायरल हुृआ है उसमें मृतक के परिजन पिछोर पीएम कराने से इंकार कर रहे हैं इस बात पर उत्तेजित होकर टीआई बोले लंदन ले जाओ। इतने ल_ मारूंगा ठीक हो जाएगा। इसके बाद वह पुलिसकर्मियों को आदेशित कर रहे हैं कि इसे अंदर ले जाओ मैं इसे बताता हूं। इसके बाद मृतक के चाचा और ताऊ अपने भतीजे का शव लेकर शिवपुरी आए जहां शव का पोस्टमार्टम किया गया। पोस्टमार्टम दो डॉक्टरों के पैनल डॉ. राजेंद्र प्रसाद मौर्य और डॉ. पिप्पल द्वारा किया गया तथा पीएम की वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराई गई है। 

चाचा और ताऊ ने विधायक पर लगाया आरोप 

मृतक के चाचा ब्रजभान यादव और ताऊ त्रिलोक सिंह यादव ने इस मामले में पिछोर विधायक पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके इशारे पर ही पुलिस हत्या के इस मामले को आत्महत्या में परिवर्तित कर रही है। उनका आरोप है कि इस मामले में संदीप और राजप्रताप का हाथ है। जो विधायक के खास माने जाते हैं। परिजनों का कहना है कि उनका भतीजा नातीराजा अहमदाबाद में एक कैंटीन में 14 हजार 500 प्रतिमाह वेतन पर काम करता था और उस कैंटीन में संदीप का भाई कुलदीप भी काम करता था। 

जिसकी दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी और संदीप कहता था कि उसकी हत्या नातीराजा ने की है और वह इसका बदला लेगा। इसी बात पर 4 फरवरी को संदीप और राजप्रताप ने नातीराजा से विवाद किया था जिसमें बाद में राजीनामा हो गया और 4 फरवरी की शाम को दोनो नातीराजा को बुलाने आए, लेकिन हमने मना कर दिया कि नातीराजा घर में नही है इसके बाद जब सब लोग सो गए तब दोनों नातीराजा को बुलाकर ले गए और हत्या कर उसके शव को पेड़ पर लटका दिया। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics