Ad Code

अस्पताल में शराबी सिक्योरिटी गार्ड का हंगामा, नर्सो से अभद्रता, कुर्सिया फेंकीं | Shivpuri News

शिवपुरी। अभी तक उचित ईलाज ने मिलने के अभाव में पब्लिक द्धारा ही अस्पताल में तोडफोड करने की खबरे आती थी। आज मेडिकल कॉलेज में सिक्योरिटी की सेवा दे रहा एक गार्ड ने शिवपुरी अस्तपाल की ट्रामा सेंटर में नशे में धुत्त होकर ड्यूटी पर तैनात नर्सो के साथ अभद्रता, गाली ग्लौच करते हुए कुर्सिया और रजिस्टार फेक दिए। मामले की शिकायत कोतवाली पुलिस में की हैं। 

जानकारी के मुताबिक ट्रोमा सेंटर के आईसीयू में स्टाफ नर्स बबीता कश्यप और सारिका नामदेव ड्यूटी दे रहीं थीं। स्टाफ नर्सों ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में सिक्योरिटी सुपरवाइजर का काम करने वाला आकाश नाम का लड़का आया। कहने लगा कि हमारे मेडिकल कॉलेज के बार्डवॉय की ड्यूटी कहां लगी है। 

स्टाफ नर्सों ने कहा कि हमें पता नहीं है। इसी बात पर आकाश भड़क गया और कहने लगा कि तुम यहां बैठक क्या कर रही हो। अभद्रता करने पर टोका तो गालीगलौज शुरू कर दी। इसके बाद कुर्सी व रजिस्टर उठाकर फेंक दिए। आकाश शराब के नशे में धुत्त था। 

ड्यूटी डॉक्टर के सामने भी अभद्रता करने से नहीं चूका 

स्टाफ नर्सों का कहना है कि मामले की शिकायत ड्यूटी पर मौजूद डॉ पंकज गुप्ता से की। यहां आकर आकाश अभद्रता करने से पीछे नहीं हटा। इसके बाद सिविल सर्जन डॉ पीके खरे और डॉ साकेत सक्सेना सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे। घटनाक्रम समझकर तुरंत सिटी कोतवाली से पुलिस बुलवा ली। 

मेडिकल कॉलेज के सिक्योरिटी इंचार्ज से संबंधित युवक के बारे में बातचीत की है। उक्त युवक को हटाए जाने की बात हमसे कही गई है। साथ ही कोतवाली में भी लिखित शिकायत दर्ज करा दी है। अस्पताल में कोई भी गलत व्यवहार स्टाफ से नहीं कर सकता। 
डॉ पीके खरे, सिविल सर्जन, जिला अस्पताल शिवपुरी