Ad Code

कोल्ड स्टोर से अजवायन चोरी का आरोपी दबौचा,माल बरामद | Shivpuri News

शिवपुरी। खबर शहर के देहात थाना क्षैत्र के एबी रोड पर स्थिति अमन धर्मकांटे के सामने से आ रही है। जहां बीते रोज कोल्ड स्टोर को निशाना बनाकर अजवाइन सहित उडद और महुआ के कट्टे पार करने बाले एक आरोपी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इस मामलेे की शिकायत देहात थाने में फरियादी त्रिलोक चंद पुत्र किशन सिंह कंसाना ने की थी। 

जानकारी के अनुसार बीते 9 दिसबंर 2018 की रात्रि में कोल्डस्टोर के पीछे की तरफ से घुसकर अज्ञात चोरा द्वारा कोल्डस्टोर में रखी 37 बोरी अजवायन प्रत्येक में 60 कि.ग्रा. अजवायन,12 कट्टे उड़द प्रत्येक में 60 कि.ग्रा. एवं 13 कट्टे महुआ प्रत्येक में 40 कि.ग्रा. महुआ की ताला व खिड़की तोड़कर किसी अज्ञात वाहन में रखकर चोरी कर ले गए हैं, सूचना पर से थाना देहात में  धारा 457,380 भादवि का कायम कर विवेचना में लिया जाकर अज्ञात चोर एवं चोरी गये माल की तलाश शुरू की गई।

उक्त मामले की सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश हिंगणकर को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि उक्त चोरी की घठना को अंजाम देने वाला आरोपी ग्राम खजूरी में छिपा हुआ हंै सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शिवपुरी द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक गजेन्द्र सिंह कंवर को आदेशित किया कि एक टीम का गठन कर तत्काल कार्यवाही कर सूचना से मूझे अवगत करायें। 

अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी द्वारा एस.डी.ओ.पी. शिवपुरी शिवसिंह भदौरिया के निर्देेशन में एक टीम का गठन कर थाना प्रभारी देहात निरी. हरिचरण लाल प्रजापति के नेत्रृत्व में उक्त पुलिस टीम को मुखबिर के बताये स्थान पर रवाना किया गया, पुलिस टीम द्वारा ग्राम खजूरी थाना सिरसौद से आरोपी को घेराबंदी कर दबोचा गया, नाम पता पूछने पर उसने अपना नाम भगवान सिंह पुत्र विद्याराम कुशवाह उम्र 35 साल निवासी खजूरी को गिरफ्तार कर उससे घटना के संबंध में पूछताछ की गई तो उसने अन्य 3 साथियों के साथ मिलकर इस चोरी की घटना को अंजाम देना स्वीकार किया, बाद पुलिस टीम द्वारा आरोपी भगवान सिंह से चोरी गये माल में से 18 बोरी अजवायन बरामद की गई, मामले में अन्य आरोपियों की तलाश अभी जारी है।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी सतनवाड़ा उनि. कृपाल सिंह राठौर एवं थाना देहात से उनि. अमित चतुर्वेदी,सउनि बी.एस. जादौन,प्रआर इन्द्रपाल सिंह,आर. रघुवीर पाल,राहुल कुमार,सुमित सेंगर,जीतेन्द्र करारे,चंन्द्रभान और आर. विकास की विशेष भूमिका रही।